गिरिडीह स्थापना दिवस

गिरिडीह स्थापना दिवस में गुरूजी ने पहुँच कई वर्षों का सूखा दूर किया

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin
Share on telegram
Share on whatsapp

झारखण्ड मुक्ति मोर्चा गिरिडीह स्थापना दिवस में गुरूजी ने पहुँच कर अपने चाहने वालों कि शिकायर दूर की

गिरिडीह जिला के झामुमो कार्यकर्ता अपनी परंपरा को निभाते हुए, झारखण्ड मुक्ति मोर्चा गिरिडीह का 47वां स्थापना दिवस धूम-धाम से मनाए। झारखण्ड मुक्ति मोर्चा सुप्रीमो दिशोम गुरु शिबू सोरेन ने इस कार्यक्रम में अपनी उपस्थिति दर्ज कर न केवल इतिहास को दोहराया बल्कि कार्यकर्ताओं की शिकायत, अब वे नहीं पहुँचते को दूर भी किया। यह कार्यक्रम इसलिए भी महत्वपूर्ण व ऐतिहासिक था कि कई वर्षों बाद इस जिले ने पार्टी को सुदिव्य कुमार सोनू, जगरनाथ महतो व सरफ़राज अहमद जैसे तीन विधायक दिए हैं। जिसमे जगरनाथ महतो वर्तमान सरकार में शिक्षा मंत्री बनाए गए हैं, उनकी उपस्थिति भी कार्यक्रम को महत्वपूर्ण बनाती है।

ज्ञात हो कि झामुमो के सभी कार्यकर्ता इस दिवस का साल भर बेसब्री से इंतजार करते हैं। दूर-दराज़ से लोग चल इस कार्यक्रम शिरकत करने पहुँचते हैं। वे आज पूरे बरस के अपने अनुभव को साथियों के साथ साझा करते हैं। जो इस दिवस कि महत्ता को दर्शाता है।

पार्टी सुप्रीमो शिबू सोरेन ने अपने वक्तव्य में कहा कि बहुत दिनों बाद राज्य में आपकी सरकार आई है। जहाँ अधिकारी भी अपने हैं और सरकार भी। यह सरकार आदिवासियों और मूलवासियों के हितों की रक्षा को संरक्षण देते हुए उसके बेहतरी के लिए कार्य कर रही है।  हेमंत सरकार में झारखंड विकसित राज्य बनेगा। गुरु जी ने आदिवासी कार्यकर्ताओं से संथाली में भी रु-ब-रु हुए। गिरिडीह विधायक सभी साथियों का स्वागत करते हुए गिरिडीह जिले को बुलंदियों पर ले जाने के लिए खुद को प्रतिबद्ध बताया। 

शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो ने कहा कि वे शिक्षा व्यवस्था को सुधारने के लिए गंभीर हैं। उन्होंने जनता से अपील करते हुए कहा कि यदि स्कूल बंद रहता है या शिक्षक नहीं पहुँचते हैं तो आप मुझे फोन कर सूचित करें। उन्होंने यह भी कहा की पुल-पुलिया और सड़क जैसी तमाम समस्या सरकार देखेगी। आप बच्चों को पढ़ाकर अच्छा बनायें, सरकार आपके साथ हैं। उन्होंने अपने ही अंदाज़ में अधिकारियों को सुझाव दिया कि वे जनता के बीच जाएं और उनकी समस्या सुनकर निदान करें। झारखंड की दुर्दशा के लिए उन्होंने पिछली सरकार को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि नई हेमंत सरकार इसे बदलने के लिए वचनबद्ध है।

गिरिडीह स्थापना दिवस कार्यक्रम में गांडेय विधायक डॉ. सरफराज अहमद, धनवार के पूर्व विधायक निजामउद्दीन अंसारी, जिप अध्यक्ष राकेश महतो आदि ने भी विचार रखे। जबकि कार्यक्रम का संचालन महालाल सोरेन द्वारा किया गया। इसी दौरान झाविमो व अन्य दलों के सैंकड़ो समर्थकों ने झामुमो की सदस्यता ग्रहण भी की।

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin
Share on telegram
Share on whatsapp

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.