मुख्यमंत्री रघुवर जी का जवाब हेमंत सोरेन

मुख्यमंत्री रघुवर जी में जितना ज़हर है उगलें, मैं विकास की ही बात करूँगा : हेमंत सोरेन  

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin
Share on telegram
Share on whatsapp

मुख्यमंत्री रघुवर जी जो भी गलत रिपोर्ट दे लेकिन मैं तो सत्य ही कहूँगा 

आज 28 सितंबर को भारत के महान क्रांतिकारी शहीद भगत सिंह की जयंती है। इस अवसर पर हेमंत सोरेन ने उन्हें नमन करते हुए कहा कि भगत सिंह भारत के उन चंद क्रांतिकारियों में से हैं जिनका नाम देश का बच्चा बच्चा जानता है। ऐसे मौके पर मैं खुद से सवाल करता हूँ कि क्या मैं सचमुच में भगत सिंह के सपनों का भारत बनाना चाहता हूँ? थोड़ी देर रुककर गहरी सांस भरते हुए जवाब में कहते हैं – हाँ मैं भगत सिंह व हमारे महापुरुषों के अरमानों व उनके सपनों वाला देश भले ही न बना सकूँ लेकिन झारखंड को ज़रूर उनके सपनों वाला बनाऊंगा। आगे वे कहते हैं, मेरा संकल्प साफ़ है कि मुख्यमंत्री रघुवर जी में मेरे खिलाफ जितना जहर हो उगलें, लेकिन में केवल झारखंड के लोगों की समृद्धि व झारखंड के विकास की ही बात करूँगा, फिर उन्होंने अपनी प्राथमिकता दुहाराए :- 

प्राथमिकताएँ  

  • हर युवा को रोज़गार देना मेरी प्राथमिकता है। पहले साल मिशन मोड में 5 लाख सरकारी पदों को भरूँगा। 
  • अब 25 करोड़ तक के ठेकेदारी के टेंडर पर केवल झारखंडियों का हक होगा। 
  •  लैंड बैंक के माध्यम से जबरन हडपे गए 21 लाख एकड़ भूमि उनके मालिकों को वापस लौटाऊंगा।  
  • पिछड़े वर्गों को 27% आरक्षण, ST और SC समुदाय को क्रमशः 28 % व 12% प्रतिशत आरक्षण, महिलाओं को 50 % आरक्षण जो उनका हक है दूंगा। ग़रीब स्वर्ण परिवारों के बच्चों को मुफ़्त शिक्षा एवं अनिवार्य रूप से छात्रवृति उपलब्ध कराऊंगा। साथ ही झारखंड के हर वर्ग की बेटियों को मुफ्त तकनीकी शिक्षा भी उपलब्ध कराऊंगा।  
  • झारखंड के युवाओं को प्राइवेट सेक्टर के नौकरियों में 75% आरक्षण की व्यवस्था करना भी हमारी प्राथमिकता है। 
  • बंद किये गए 14000 स्कूलों को पुनः खोलते हुए शिक्षा की गुणवत्ता को सुधारना झारखंड के भविष्य के लिए अति आवश्यक है। 
  • राज्य के तमाम 4 लाख अनुबंधकर्मियों के लिए सुप्रीम कोर्ट के आदेशानुसार ‘समान कार्य – समान वेतन’ को लागू करना।  
  • स्थानीयता को फिर से नए सिरे से जनता की राय से परिभाषित किया जाएगा। साथ युवाओं के परीक्षा शुल्क में की गयी 500% से अधिक की बढ़ोत्तरी को तत्काल प्रभाव से वापस लिया जाएगा।
  • हमारे सुरक्षाकर्मी -पुलिस कर्मी को 50 दिनों का अतिरिक्त वेतन व उनके काटे गए छुटियों वापस किया जाएगा। 
  • किसान भाइयों के लिए किसान बैंक व राज्य की महिलाओं के लिए मिहीला बैंक अतिशीघ्र खोला जाएगा, ताकि उन्हें उनके आर्थिक तंगी से निजात मिल सके। 

मसलन, यह मेरे पहले 100 दिनों के कार्यकाल के प्राथमिकताओं का संक्षिप्त विवरण है। जो मैं हर हाल में पूरा करूँगा। सभी साथियों से यह भी आग्रह करता हूँ कि मेरे संकल्प को ज़्यादा लोगों तक पहुँचाने में मेरी मदद करें क्योंकि अख़बारों और मीडिया की स्थिति से आप सभी वाकिफ हैं। तभी बन पाएगा भगत सिंह व हमारे महापुरुषों के अरमानों व सपनो वाला झारखंड

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin
Share on telegram
Share on whatsapp

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Related Posts