भाजपा ने आजतक केवल झारखंडी शहीदों का किया है अपमान: हेमंत सोरेन

Share on facebook
Share on telegram
Share on twitter
Share on whatsapp
भाजपा ने आजतक केवल झारखंडी शहीदों का किया है अपमान: हेमंत सोरेन

गुमला: 31 अक्टूबर, ‘ झारखंड संघर्ष यात्रा ’ के शुरू होने के ठीक पहले हेमंत सोरेन ने गुमला सर्किट हाउस (परिसदन भवन) में चैम्बर्स ऑफ कॉमर्स के प्रतिनिधियों से मुलाकात कर उनकी समस्या से अवगत हुए। सरकार के प्रति उनका रोष साफ-साफ दिख रहा था। वहाँ से निकलकर इनका कारवां मझाटोली पहुंची। यहाँ हेमंत जी नुक्कड़ सभा मे आयी जनता को संबोधित किया। तत्पश्चात उनका कारवां कार्तिक उरावं चौंक पहुँचा जहां कार्तिक उरांव जी कि प्रतिमा पर माल्यार्पण कर वहां उपस्थित लोगों के हुजूम को हेमंत जी ने सरकार की जन विरोधी नीतियों के बारे में बताया।

आगे यह यात्रा चैनपुर मोड़ पहुंचा जहाँ हेमंत जी द्वारा शहीद अल्बर्ट एक्का जी की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया गया, फिर पहाड़ की ओंट में स्थित मैदान में उमड़े जनसैलाब को संबोधित करते हुए भाजपा सरकार की तानाशाही, पुलिसिया बर्बरता, जमीन, बेटियों और महिलाओं पर बढ़ते अत्याचार, लचर स्वास्थ्य व्यवस्था, कु-शासन के खिलाफ संघर्ष के बारे में अवगत कराया एवं इस संघर्ष में साथ लड़ने और ताकत देने के लिए आभार व्यक्त किया।

ततपश्चात हेमंत सोरेन एवं पूरी टीम वीर शहीद अल्बर्ट एक्का के पैतृक स्थल जारी गाँव पहुंचा। वीरता की इस भूमि में दमनकारी सरकार के खिलाफ जन आक्रोश देख उन्होंने कहा कि यह तानाशाही सरकार लोगों की आवाज़ नहीं दबा सकती, दमन कितना भी बड़ा क्यूँ न हो जाए, झारखंडियत के सामने कुछ नहीं। आगे उन्होंने कहा कि सरकार के द्वारा किये जा रहे शौचालय निर्माण कार्य में अनियमितता और घोटाला ज़ाहिर करने पर यहाँ के झामुमो नेताओं पर मुक़दमे कर डराया धमकाया जा रहा है। पर यह तानाशाह सरकार सुन लें, यह संघर्ष रुकने वाला नहीं बल्कि यह आग और धधकेगी।

इसके उपरांत हेमंत सोरेन सरकार का दंश झेल रही अपूर्ण अल्बर्ट एक्का के समाधि स्थल को नमन करने गए। वहां उन्होंने कहा कि यह झारखंड के उसी महान शहीद परमवीर अल्बर्ट एक्का जी का समाधि स्थल है जहाँ रघुबर सरकार ने गाजे-बाजे के साथ भव्य समाधि स्थल बनाने का वायदा किया था। मगर यह सरकार सिर्फ एक ईंट लगाकर उन्हें भूल गयी। अल्बर्ट जी की समाधि से ज्यादा मुख्यमंत्री जी ने अपने शिलापट्ट को बड़ा बना रखा है। भाजपा ने आजतक झारखंड में शहीदों का सिर्फ अपमान ही किया है, इस असंवेदनशील सरकार का झारखंड के महान शहीदों और वीर सैनिको से कोई सरोकार नही है। घमंड में मदमस्त हो भाजपा सरकार सिर्फ़ अपना और अपने चहेते पूंजीपतियों का भला चाहती है किसी और का नही। उन्होंने आगे कहा कि अगर सरकार यह समाधि स्थल नही बनाती है तो झारखंड मुक्ति मोर्चा अपनी ताकत पर उनका भव्य समाधि स्थल बनाएगा।

आगे डुमरी पुल में कार्यकर्ताओं द्वारा राह रोककर यात्रा का स्वागत किया गया। फिर डेरा मैदान में सभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि यह वह सरकार है जो संतोषी को मारकर अपना गुनाह नही मान रही है। उसकी माँ बकरे और जानवर के बाड़े में रहने को मजबूर कर दी गयी है पर सरकार बड़े-बड़े बैनरों में पैसा खर्च करने को व्यस्त है। उन्होंने कहा सरकार गरीबों को लूटते नहीं थकती। प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना के तहत सड़क निर्माण में लगे मजदूरों को मात्र 150 रूपये मजदूरी दी जा रही है जबकि मजदूरी दर 235 रूपये है। गरीब जनता रघुबर सरकार को कभी माफ़ नहीं करेगी।

इसके बाद संघर्ष यात्रा आज के अंतिम स्थान में आमसभा हेतु रजावल मैदान पहुँचा। यहाँ पर भी हेमंत सोरेन ने रघुबर सरकार को जमकर लताड़ा। उन्होंने कहा इस सरकार में झारखंड मानव तस्करी का गढ़ बन गया है। आगे उन्होंने कहा यहाँ राज्य में गरीब परिवारों में इतना डर व्याप्त है कि एक बार बेटी बाहर निकली तो पता नहीं रहता कि वह लौटेगी भी की नहीं! गुमला विधानसभा की बढ़ते कुपोषण के ग्राफ पर भी उन्होंने सरकार पर जमकर प्रहार किया।

Leave a Replay

DON’T MISS OUT ON NEW POSTS

Don’t worry, we don’t spam. Click button for subscribe.