Lockdown का उलंघन करना झारखण्ड के भाजपा MP की कैसी राष्ट्रीयभक्ति

Share on facebook
Share on telegram
Share on twitter
Share on whatsapp
MP lockdown

झारखंड में मुख्यमंत्री जानलेवा कोरोना संक्रमण को फैलने से रोकने चाहते हैं। इसलिए,(Therefore,) केंद्र के निर्देशानुसार प्रदेश से लेकर प्रवासी मजदूरों तक को लोकडाउन (Lockdown) का पालन करने की आग्रह कर रहे हैं। वहीँ अबतक भाजपा के रसूखदार नेता लगातार इसका उलंघन करते देखे जा रहे थे। अब भाजपा के सांसदों (MP) ने लोकडाउन (Lockdown) के नियमों का उलंघन किया है। किसी को गाँव में मन नहीं लग रहा था तो शहर की और रुख कर लिया। तो कोई निजी वाहन से दिल्ली से झारखण्ड आ गये।

ज्ञात, हो कि इन दिनों भाजपा के तमाम नेताओं ने राष्ट्रभक्ति शब्द की बड़ी चर्चा की है। साथ ही इसे लेकर देश में उचस्तर की हलचल भी मचा रखी है। लेख लिखते वक़्त आशा करता हूँ कि तमाम पाठक गन राष्ट्रभक्ति के परिभाषा से भली भांति अवगत है। मौजूदा वक़्त की राष्ट्रभक्ति यह है लोकडाउन (Lockdown) के नियमो का पालन करते हुए देश के लोगों की जान-माल का रक्षा करना। अन्य स्थान का तो पता नहीं लेकिन, झारखण्ड के भाजपा सांसद MP ने जो किया वह राष्ट्रभक्ति तो कतई नहीं हो सकती।

Lockdown का उलंघन करना भाजपा MP का चरित्रक दर्शन  

संभव है कि भाजपा के किसी ऐतिहासिक व्यक्तित्व ने इतिहास में सकारात्मक योगदान दिए हों। पर प्रत्यक्ष में जो इस दल के नेता कर रहे हैं वह देश भक्ति नहीं हो सकती। क्योंकि हम जब भी किसी व्यक्तित्व का मूल्यांकन करते हैं तो उनके जीवन के समग्र मूल्यांकन करना होता है। और मौजूदा स्थिति में निश्चित ही भाजपा नेताओं के कर्म एक काला अध्याय साबित होगा। क्योंकि यह MP अपनी जनता के समस्याओं को तलांजलि देकर अपनी सुविधा के लिए ऐसा कर रहे लेकिन, कहते है जनता के लिए कर रहे हैं। 

मसलन, संजय सेठ, पीएन सिंह जैसे सांसद (MP) ऐसा कर न केवल अपने व अपने परिवार के साथ बल्कि राज्य के जनता के साथ खिलवाड़ करते हैं। इससे यह भी पता चलता है कि ये न केवल अपनी जनता के सात अपितु अपनी पद के गरिमा के साथ भी विश्वासघात करते हैं। इसलिए, (Therefore,) भाजपा नेताओं को चाहिए कि संकट के दौर में लोकडाउन (Lockdown) का पालन करते हुए जनता के हित में कार्य करें।

Leave a Replay

DON’T MISS OUT ON NEW POSTS

Don’t worry, we don’t spam. Click button for subscribe.