CM हेमन्त के नेतृत्व में कामकाज के तरीकों में हुए बदलाव – ‘हमर अपन बजट’ जैसे प्रयास से धरातल उतरेगें सटीक योजनाएं  

Share on facebook
Share on telegram
Share on twitter
Share on whatsapp

झारखण्ड : CM हेमन्त द्वारा सरकार की पसंद का बजट थोपने की संस्कृति को समाप्त कर जनता की पंसद का बजट पेश करने का प्रयास हुआ है. CM बजट में बेहतर प्रबंधन कर जनता की गाढ़ी कमाई को मूल जन समस्याओं के निदान में खर्च करने का प्रयास करती दिखती है.

रांची : भारत जैसे दुनिया के सबसे बड़े लोकतांत्रिक देश में जनता द्वारा आरोप लगते रहे हैं कि सरकारें अपनी पसंद का बजट जनता पर थोपती है. चूँकि सरकारें बजट के सम्बन्ध में जनता की राय से परहेज करते हैं, ऐसे में शिक्षा, स्वास्थ्य, विकास जैसे जनहित मुद्दों के मद्देनजर बनी नीतियां देश-राज्य की मूल समस्याओं की ज़मीनी हकीकत से मेल नहीं खाते. नतीजतन, जहाँ जनता की गाढ़ी कमाई बर्बाद होती है तो वहीं तमाम नीतियां व योजनाएं असर नहीं दिखा पाते.

लेकिन, देश भर में पहली बार झारखण्ड में CM हेमन्त सोरेन द्वारा सरकार के कामकाज के तरीकों में बदलाव कर इस समस्या का हल निकालाने का प्रयास हुआ है. मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ‘हमर अपन बजट’ जैसे प्रयास के माध्यम से बजट में जनता की राय शामिल कर रहे हैं. जिससे वह जन समस्याओं के अनुरूप सटीक योजनाओं को ज़मीन पर उतारने में सफल हो सकते है. और बजट में बेहतर प्रबंधन कर वह जनता की गाढ़ी कमाई को मूल जन समस्याओं के निदान में खर्च कर जनता को गति से राहत देने का प्रयास करते दिखते हैं.

ज्ञात हो, वर्ष 2022-23 के आम बजट हेतु हेमन्त सरकार द्वारा ‘हमर अपन बजट’ पोर्टल और मोबाइल एप लॉन्च किया गया है. इसके जरिए सरकार द्वारा जनता से उनके सहूलियत के अनुरूप सुझाव मांगा गया है. मसलन, ‘राज्य निर्माण में लोगों की सार्थक भूमिका हो, यही लोकतंत्र की खूबसूरती है’ मुख्यमंत्री का कहना दर्शाता है कि उनके नेतृत्व में झारखण्ड में लोकतंत्र को लोक के अनुरूप गढ़ने का प्रयास हो रहा है.

बजट 2022-23 के लिए जनता विभिन्न माध्यमों से ‘हमर अपन बजट’ के लिए अपने सुझाव भेज सकते हैं

वित्त मंत्रालय के अधीन https://finance.jharkhand.gov.in/BudgetVichar/ में जाकर बनाये गये ऑनलाइन पोर्टल “हमर अपन बजट” के माध्यम से आम जनता का सुझाव आमंत्रित किये जा रहे हैं. ऑनलाइन पोर्टल “हमर अपन बजट” पर पंजीकरण कर अपने बहुमूल्य विचार प्रस्तुत कर सकते हैं. बनाये गये पोर्टल पर सुझाव देने की पूरी प्रक्रिया का विवरण दिया गया है. इसके अलावा ट्विटर, फेसबुक, व्हाट्सएप और इन्स्टाग्राम के माध्यम से भी आप अपने सुझाव सरकार को दे सकते हैं.

झारखण्ड में पहला मौका है जब तमाम जनता से उनके बजट के लिए मांगा गया है सुझाव

झारखण्ड गठन के बाद ऐसा पहली बार हुआ है जब किसी सरकार द्वारा बजट बनाने के लिए प्रदेश के सवा तीन करोड़ (2011 की जनसंख्या अनुसार आबादी) जनता से सुझाव माँगा गया है. इस सम्बन्ध में बताया जा रहा है कि सरकार का प्रयास है कि सभी के लिए बेहतर बजट बने और हर वर्ग का ध्यान रखा जाए. हालांकि, सरकार विशेषज्ञों की राय भी ले रही है, विभागीय स्तर पर भी मंथन चल रहा है. लेकिन सरकार का यह भी मानना है कि जनता से बड़ा विशेषज्ञ कोई नहीं है. क्योंकि जनता अपनी समस्याओं को बेहतर परिभाषित कर सकती है. मसलन, इसी उदेश्य से सरकार यह कवायद कर रही है.

CM हेमन्त सोरेन : सुनियोजित बजट प्रदेश की उन्नति में करता है महत्वपूर्ण सहयोग

मुख्यमंत्री का मानना है कि एक उन्नत राज्य में बजट का भी महत्वपूर्ण योगदान होता है. क्योंकि सुनियोजित बजट प्रदेश की उन्नति में महत्वपूर्ण सहयोग करता है. बजट द्वारा ही राज्य शासन की नीतियों को योजनाओं के माध्यम से गति प्रदान की जाती है, जिसका लाभ आम जनता को मिलता है. बजट केवल आय-व्यय का ब्योरा नहीं है, जन-आकांक्षाओं की पूर्ति का माध्यम है. समृद्ध और विकसित झाऱखण्ड का निर्माण बेहतर बजट के माध्यम से ही संभव है. 

आत्मनिर्भर झाऱखंड के लिए जनता की आकांक्षाओं की पूर्ति बजट का मूल उद्देश्य होना चाहिए. मसलन, CM द्वारा प्रदेशवासियों से अपील की गयी है कि 2022-23 के बजट के लिए उनके पास कोई सुझाव हो, तो वह https://finance.jharkhand.gov.in/BudgetVichar/ के माध्यम से भेज सकते हैं. जनता के हर एक सुझाव का अध्ययन किया जाएगा और स्वीकार करने योग्य प्रस्ताव को बजट में जोड़ने का प्रयास होगा.

इन फ्लेटफॉर्म पर ‘हमर अपन बजट’ के लिए मांगे गए हैं सुझाव

  • Website: https://finance.jharkhand.gov.in/BudgetVichar
  • Twitter:- Follow @HamarBudget 
  • WhatsApp +916512446191
  • Instagram :- https://www.instagram.com/hamarbudget
  • Email Id :-hamarbudget@gmail.com

Leave a Replay

DON’T MISS OUT ON NEW POSTS

Don’t worry, we don’t spam. Click button for subscribe.