आयशा ने ट्विट कर कहा, “मुझे कुछ हुआ तो बाबूलाल और निशिकांत दुबे होंगे जिम्मेदार

भाजपाइयों की खुली पोल – जिस आयशा को लेकर भाजपाइयों ने हेमंत सोरेन पर लगाया था आरोप उसे जानते ही नहीं

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin
Share on telegram
Share on whatsapp

आयशा ने ट्विट कर कहा, “मुझे कुछ हुआ तो बाबूलाल और निशिकांत दुबे होंगे जिम्मेदार

भाजपा के लोगों पर आयशा ने ब्लैकमेल करने का लगाया गंभीर आरोप 

आरएसएस एक ऐसी राजनैतिक विचारधारा है, जो पूर्णतः प्रजातंत्र-विरोधी है। और जिसका चरित्र फासीवाद और/या नाजी विचारधारा है, जो उसे राजनैतिक सत्ता के पाने के लिए किसी भी हद तक गिरने के लिए प्रेरित करती है। अगर आरएसएस को खुली छूट मिल जाए तो वह देश में आदिवासी-दलित व बहुजनों को आगे बढने ही नहीं देगा। यदि आप केवल मुसलमानों के दृष्टिकोण से आरएसएस को मापते हैं तो बड़ी भूल करते है। यह दमित व किसी भी जाति के गरीब वर्गों पर लागू हो सकता है।

ज्ञात हो कि झारखंड के सदाचारी! भाजपा नेताओं ने झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन पर दुष्कर्म करने जैसा घिनौना आरोप लगाया था।उन्होंने जिस महिला ने दुष्कर्म करने का यह आरोप लगाया था उसका नाम आयशा खान बताया गया था। जिसपर मुख्यमंत्री द्वारा मानहानि का दावा करते हुए भाजपाइयों पर मामला दर्ज किया गया था।   

एक ट्वीट ने झारखंड के सियासी गलियारे भाजपा सदाचारियों नेताओं का पाप का घड़ा फोड़ते हुए अचानक तहलका मचा दिया। इस ट्वीट में आयशा खान नाम की एक युवती द्वारा भाजपा के बाबूलाल मरांडी व निशिकांत दुबे सहित चार नामित नेताओं पर अपने बारे में गलत ट्वीट करने का आरोप लगाया गया है। जिसमे उन्होंने राज्य सरकार से गुहार लगाई है कि अगर उसे कुछ हुआ, तो इसके जिम्मेदार जहूर आलम, बाबूलाल मरांडी, निशिकांत दुबे और सुनील तिवारी होंगे। 

आयशा के ट्विट

“छी छी!! @yourBabulal @nishikant_dubey @itssuniltiwari @BJP4Jharkhand भाजपा नेताओं की निकृष्ट नीयत को देश ने हर बार अपनी खुली आँखों से देखा। किसी राज्य में चले जाइये, बहु-बेटियों को भाजपाईयों ने सिर्फ़ वस्तु समझा। इन्हें नारी शक्ति का भान तक नहीं।”

झारखण्ड सरकार कृपया संज्ञान लें। pic.twitter.com/qTDSs0uJQa

— Jharkhand Mahila Morcha (@Jmm_Mahila) December 24, 2020

आयशा ने बीजेपी के नेताओं व उनके लोगों पर उन्हें बदनाम करने का लगाया आरोप 

आयशा ने वीडियो जारी कहा है कि मैं आयशा खान हूँ, बीजेपी के लोग उसे बदनाम करने की कोशिश कर रहे हैं। मुझे ब्लैकमेल, डराया और धमकाया जा रहा है। मैंने पुलिस को इस मामले में शिकायत मेल के माध्यम से कर दी है। मेरे बारे गलत ट्विट किये जा रहे हैं। मुझे बहुत डर लग रहा है, मैं पुलिस से बस इतना चाहती हूं कि अगर मुझे कुछ हो जाए तो उसके जिम्मेदार जहूर आलम, सुनिल तिवारी, बाबूलाल मरांडी और निशिकांत दुबे होंगे। 

निशिकांत दुबे ने पल्ला झाड़ते हुए कहा कि – मैं नहीं जानता महिला कौन है 

इस सम्बन्ध में बीजेपी गोड्डा फर्जी डिग्री आरोपी सांसद निशिकांत दुबे से संवाददाता की सवाल पर उन्होंने कहा कि मैंने अपने ट्विटर पर इस महिला का वीडियो जरूर डाला है, लेकिन मैं इसे नहीं जानता हूं।  और मामले कोई बयान देने से सीधा मुकर जाना उनके राजनीतिक छवि पर कई गंभीर सवाल खड़े करते हैं। बाबूलाल जी से संवाददाताओं का संपर्क नहीं हो पाया है।  

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin
Share on telegram
Share on whatsapp