झारखंड की महिलाओं को सहायता पहुंचा हेमंत सोरेन ने पेश की मानवता की मिसाल

महिलाओं को सहायता

महिलाओं को सहायता पहुंचा मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने पेश की मानवता की मिसाल, जबकि पूर्व सीएम ने पैर धुलवाकर लिया था श्रेय

रांची। महिलाओं के अधिकारों की बात करने वाली हेमंत सरकार ने एक बाऱ फिर मानवता की मिसाल पेश की है। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को सोशल मीडिया से एक वृद्ध महिला की खराब स्थिति की जानकारी मिली थी। मुख्यमंत्री मामले में त्वरित संज्ञान लेते हुए रांची जिला प्रशासन को निर्देश दिया था कि असहाय महिला तक तत्काल राहत पहुंचाए। ज्ञात हो कि सीएम के निर्देश के बाद उस वृद्ध महिला को राहत पहुंचाया जा चुका है। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को उनके कार्य के लिए चौतरफा प्रशंसा भी मिल रही है।

ज्ञात हो कि जहाँ मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के शासन में महिलाओं को उनके अधिकार आसानी से मिल पा रही है। वहीं भाजपा शासन में राज्य के महिलाओं के साथ अधिकार का नाम पर उनका अपमान किया जाता रहा। जिसके कई तुलनात्मक उदाहरण आज प्रत्यक्ष रूप से हमारे सामने है। 10 जुलाई 2017, भाजपा के पूर्व मुख्यमंत्री के पितरात्मक सोच की साफ़ झलक देखने को मिला था। पूर्व सीएम रघुवर दास जब एक कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंचे तो उन्होंने अपने पैर महिलाओं से धुलवा कर महिला सम्मान का श्रेय लिया था।  

भीख मांग जीवन यापन करने वाली वृद्ध महिला तक हेमंत ने तत्काल पहुंचाई राहत

दरअसल, सीएम तक विभिन्न माध्यमों से जानकारी पहुंची कि हरमू रोड स्थित सहजानंद चौक के पास एक वृद्ध दिव्यांग महिला है, जिसका कोई सहारा न होने के कारण घिसटने को मजबूर है। आसपास के लोग के अल्प मदद से उनका गुजारा बमुश्किल होता है। उसके बेटे तक ने उसे बुरे हाल में जीने को छोड़ दिया है। मामले में संज्ञान लेते हुए सीएम ने रांची डीसी को निर्देश दिया कि उस वृद्ध महिला को तत्काल आश्रय गृह में पहुंचायें एवं देख-भाल की उचित व्यवस्था करें। सीएम के निर्देश के बाद न केवल उस दिव्यांग वृद्ध महिला को वृद्धा आश्रम पहुंचाया गया। बल्कि उसे व्हील चेयर के साथ सर्दियों के लिए गर्म कपड़ा और कंबल भी उपलब्ध कराया गया है। ज्ञात हो कि मुख्यमंत्री द्वारा महिलाओं को सहायता पहुंचाना कोई पहली घटना नहीं है, उन्हें जब भी पता चलता है वह ऐसा करते है।

महिलाओं की प्रति भाजपा की सोच क्या है, यह उसके पूर्व सीएम ने खुद पेश किया था

पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास महिलाओं से पेर धुलवाते हुए

अब हम बात करते है, महिलाओं के प्रति भाजपा की सोच की। जमशेदपुर के ब्रह्मलोक धाम में वर्ष 2017 को गुरु महोत्सव के मौके पर आयोजित एक कार्यक्रम में तत्कालीन सीएम रघुवर दास भी पहुंचे थे। उस वक्त उनकी आयु करीब 62 वर्ष थी। कार्यक्रम में उपस्थित महिलाओं द्वारा रघुवर दास के पैर धोए थे। दिलचस्प पहलू यह था कि वहां उपस्थित किसी भाजपा नेता ने मुख्यमंत्री के इस कार्य को देख कर भी कोई रोक नहीं लगायी। बल्कि सहजा मन से हाथ जोड़ महिलाओं से पैर धुलवाए। इस घटना का वीडियो भी सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुआ था। वीडियो में साफ दिखा था कि पूर्व सीएम एक थाली में खड़े हैं और दो महिलाएं जमीन पर बैठकर उनके पांव धो रही हैं। वीडियो के सामने आने के बाद तत्कालीन विपक्षी दलों ने तब आरोप भी लगाया था कि भाजपा नेताओं ने महिलाओं का अपमान किया है। अगर वे चाहते तो महिलाओं को इस कार्य को करने से रोक सकते थे, लेकिन किसी भाजपा नेता ने ऐसा नहीं किया।

Leave a Replay

DON’T MISS OUT ON NEW POSTS

Don’t worry, we don’t spam. Click button for subscribe.