विधायक सरयू राय की जीवनी पर आधारित पुस्तक ‘द पीपुल्स लीडर’ का विमोचन 

Share on facebook
Share on telegram
Share on twitter
Share on whatsapp
पुस्तक 'द पीपुल्स लीडर' का विमोचन

मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन एवं विधान सभा अध्यक्ष ने सरयू राय की जीवनी पर आधारित पुस्तक ‘द पीपुल्स लीडर’ का किया विमोचन…

‘द पीपुल्स लीडर’ पुस्तक सभी के लिए प्रेरणास्रोत

 अच्छे लोगों ने आज भी ‘सत्यमेव जयते’ को जिंदा रखा है

  हेमन्त सोरेन, मुख्यमंत्री, झारखंड

रांची : मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन एवं विधान सभा अध्यक्ष रबीन्द्र नाथ महतो ने राज्य के पूर्व मंत्री एवं वर्तमान विधायक सरयू राय की जीवनी पर आधारित पुस्तक ‘द पीपुल्स लीडर’ का विमोचन किया. इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा कि सरयू राय जी परिचय के मोहताज नही हैं.  मुझे काफी समय से इनके साथ काम करने का मौका मिला है. श्री राय के सुझावों और विचारों से मैं हमेशा प्रभावित हुआ हूं. मुझे लगता है कि मैं ही नहीं बल्कि इनके विचारों से कई लोग प्रभावित होंगे. अच्छे लेखक एवं अच्छे राजनीतिज्ञ के रूप में लोगों के बीच इनकी चर्चा सदैव होती रहती है.

श्री राय द्वारा लिखी गई कई पुस्तकें मैंने स्वयं पढ़ी है. मुख्यमंत्री ने कहा कि सरयू राय जी ने हमेशा चुनौतियां स्वीकार की हैं. साहस और धैर्य का परिचय देते हुए सभी चुनौतियों का सफलतापूर्वक सामना भी किया है. आप ने सच्चाई के पथ पर चलकर अपनी अलग मुकाम बनाई है. आप जैसे लोगों के चलते ही आज भी ‘सत्यमेव जयते’ जिंदा है. मुख्यमंत्री ने श्री राय को असामान्य सोच के साथ आगे बढ़ते रहने के लिए अपनी शुभकामनाएं दी.

पुस्तकें बेहतर प्रबंधन के साथ राज्य को आगे बढ़ाने की प्रेरणा देती हैं

मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने कहा कि राज्य के पूर्व मंत्री एवं वर्तमान विधायक सरयू राय जी द्वारा लिखी गई पुस्तकें राज्य सरकार को एक बेहतर प्रबंधन के साथ आगे बढ़ने को प्रेरित करती हैं. हम सभी को पूर्व की गलतियों से सीख लेते हुए साथ मिलकर एक बेहतर प्रबंधन के साथ राज्य को आगे ले जाना है. आने वाले समय लेखक पुस्तक ‘द पीपुल्स लीडर’ राज्य को एक बेहतर दिशा देगी. मैं अपनी ओर से ‘द पीपुल्स लीडर’ पुस्तक की सफलता के लिए शुभकामनाएं देता हूं.

सकारात्मक कार्यों और अच्छे सुझावों को सम्मान देना नैतिक कर्तव्य

इस अवसर पर विधान सभा अध्यक्ष रबीन्द्र नाथ महतो ने कहा कि कृतज्ञ समाज का उत्तरदायित्व बनता है कि अच्छे कार्यों की जानकारी जन-जन तक पहुंचानी चाहिए. उन्होंने कहा कि राज्य के पूर्व मंत्री एवं वर्तमान विधायक श्री सरयू राय ने हमेशा अच्छे कार्य किए हैं. उन्होंने एकला चलो के राह को अपनाते हुए अपनी नीति और सिद्धांत के साथ कभी समझौता नहीं किया है. श्री राय ने कभी गलत लोगों का साथ नहीं दिया. निश्चित रूप से राज्य हित एवं जनहित से संबंधित मामलों में श्री राय द्वारा दिए गए सुझावों का राज्य सरकार स्वागत करती है. और सदन की कार्यवाही के दौरान सकारात्मक कार्यों और अच्छे सुझावों को सम्मान देना हम सभी का नैतिक कर्तव्य है।

‘द पीपुल्स लीडर’ पुस्तक में हैं कई अन छुए पहलुओं की जानकारी..

इस अवसर पर ‘द पीपुल्स लीडर’ पुस्तक के लेखक विवेकानंद झा ने पुस्तक के विषय-वस्तु की विस्तृत जानकारी अपने संबोधन में रखीं. उन्होंने कहा कि श्री सरयू राय से संबंधित व्यक्तिगत, सामाजिक, राजनीतिक जीवन के कई अनछुए पहलुओं को इस पुस्तक में दर्शाया गया है. वर्ष 1974 छात्र आंदोलन, आपातकाल में भूमिका, राजनीति में पदार्पण, विभिन्न मुद्दों पर मतभेद, घोटालों को उजागर करने में भूमिका से लेकर कई अन्य घटनाओं का जिक्र इस पुस्तक में किया गया है.

मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन एवं विधान सभा अध्यक्ष रबीन्द्र नाथ महतो ने शॉल ओढ़ाकर सरयू राय जी को सम्मानित किया. सरयू राय ने विधानसभा अध्यक्ष एवं मुख्यमंत्री के प्रति आभार व्यक्त किया. इस अवसर पर पूर्व केंद्रीय मंत्री सुबोध कांत सहाय, पूर्व विधायक राधाकृष्ण किशोर, मुख्य सचिव सुखदेव सिंह, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव राजीव अरुण एक्का, मुख्यमंत्री के सचिव विनय कुमार चौबे, प्रभात प्रकाशन के निदेशक पीयूष कुमार सहित अन्य लेखक, साहित्यकार एवं शिक्षाविद उपस्थित थे.

Leave a Replay

DON’T MISS OUT ON NEW POSTS

Don’t worry, we don’t spam. Click button for subscribe.