झारखंड छात्र संसद-2021 : झारखण्ड के भविष्य के लिए युवा सोच को सींचने की दिशा में बढ़ी हेमंत सरकार

झारखंड विधानसभा में आयोजित प्रथम झारखंड छात्र संसद-2021 का उद्घाटन विधानसभा अध्यक्ष रबीन्द्र नाथ महतो, मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन एवं संसदीय कार्य मंत्री आलमगीर आलम ने किया.

विधायी व संसदीय व्यवस्था की जानकारी जन-जन तक पहुंचाएं.

राजनीतिक और संसदीय चेतनाएं मजबूत समाज का आधार

युवा वर्ग ही देश को देंगे नई दिशा 

हेमन्त सोरेन, मुख्यमंत्री

रांची : विधानसभा अध्यक्ष रबीन्द्र नाथ महतो, मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन एवं संसदीय कार्य मंत्री आलमगीर आलम द्वारा झारखंड विधान सभा में आयोजित दो दिवसीय प्रथम झारखंड छात्र संसद-2021 का दीप प्रज्वलित कर उद्घाटन किया गया. प्रथम झारखंड छात्र संसद-2021 में राज्य के विभिन्न जिलों के विश्वविद्यालयों से चयनित 24 छात्र-छात्राएं शामिल हो रहे हैं. 

झारखंड छात्र संसद-2021

भविष्य के झारखण्ड के लिए युवा सोच को आगे बढ़ सींच रही है हेमन्त सरकार

विधानसभा अध्यक्ष रबीन्द्र नाथ महतो – राज्य के मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन देश के युवा मुख्यमंत्रियों में से एक है. युवा मुख्यमंत्री होने के नाते राज्य के युवाओं के अंदर क्षमता का विकास किस प्रकार हो, इस दिशा में सदैव गंभीर रहते हैं. इसी कड़ी में, अगले पग के रूप आज झारखंड विधान सभा में प्रथम झारखंड छात्र संसद-2021 का आयोजन किया गया है. इस कार्यक्रम में भाग ले रहे छात्र-छात्राएं विधायिका, कार्यपालिका और न्यायपालिका व्यवस्था की पूर्ण जानकारी समाज के हर वर्ग तक पहुंचाने का काम करेंगे.

संसदीय व्यवस्था का लाभ समाज के अंतिम पंक्ति तक कैसे पहुंचायी जाए, कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य है. झारखण्ड के आमजनों को संसदीय विषय एवं कार्यों का पूर्ण ज्ञान व जानकारी होना जरूरी है, तभी विकसित समाज का सपना साकार हो सकेगा.

राजनीतिक, सामाजिक और संसदीय चेतनाएं सभी में होनी चाहिए

मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन – झारखंड विधान सभा अध्यक्ष के प्रयास से आज यहां प्रथम झारखंड छात्र संसद-2021 का सफल आयोजन हो रहा है. इस कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए राज्य के विभिन्न विश्वविद्यालयों में अध्ययनरत छात्र-छात्राएं चयनित होकर यहां पहुंचे हैं. प्रथम झारखंड छात्र संसद-2021 का विषय संवेदनशील और महत्वपूर्ण है. मुख्यमंत्री ने कहा कि विधायिका, कार्यपालिका और न्यायपालिका की बेहतर जानकारी होना सभी के लिए महत्वपूर्ण है, चाहे वह राजनीतिज्ञ, शिक्षक या सामान्य व्यक्ति ही क्यों न हो. मैं समझता हूं कि मजबूत समाज तथा मजबूत देश वही होता है जहां के समाज में राजनीतिक, सामाजिक और संसदीय चेतनाएं व्याप्त होती हैं.

युवा सोच से ही सामाजिक परिवर्तन संभव

मुख्यमंत्री ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा संचालित लोकसभा सदन एवं विभिन्न राज्यों के विधानसभा के द्वारा राज्य एवं देश को दिशा दी जाती है. समाज के विभिन्न वर्गों के सर्वांगीण विकास के लिए यहीं से कानून बनते हैं.जिससे देश व राज्य का विकास पहिया आगे बढ़ता है. कई मामलों पर लोगों में अलग-अलग विचार होते हैं. यही कारण है कि विधान सभा सदन में भी सत्तापक्ष और विपक्ष दोनों सक्रिय होते हैं. दोनों पक्ष मिलकर राज्य को नई दिशा देने का काम करते हैं. 

प्रतिभागियों को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि आज आप सभी नौजवान यहां विधायी प्रक्रियाओं को समझेंगे. आप यहां जो जानेंगे अथवा समझेंगे, मुझे विश्वास है कि उसे आप अपने आस-पास के क्षेत्रों में साझा करेंगे. ऐसे महत्वपूर्ण विषय की जानकारी सभी तक पहुंचाना आपका कर्तव्य है. समाज की आर्थिक, शैक्षणिक तथा सामाजिक विकास के लिए सभी की जिम्मेदारी सुनिश्चित है. लेकिन वर्तमान समय में उस जिम्मेदारी को व्यवहार में लाने की आवश्यकता है.

मुख्यमंत्री ने कहा कि आप सदन की स्वस्थ परंपरा को समाज में गढ़ने का प्रयास करेंगे जो आने वाली युवा पीढ़ी को प्रेरित करेगी. सामाजिक परिवर्तन युवाओं के माध्यम से ही संभव है. आज कई क्षेत्रों में युवाओं ने अपने-अपने क्षमता के अनुरूप राज्य और देश का नाम रोशन किए हैं तथा लोगों के लिए प्रेरणास्रोत बने हैं. आप भी अपनी महती भूमिका से समाज को रोशन कर सकते हैं.

जागरूक समाज का निर्माण ही आयोजन का मूल मकसद  

संसदीय कार्य मंत्री आलमगीर आलम – झारखंड विधानसभा देश की पहली विधान सभा है जहां प्रथम झारखंड छात्र संसद-2021 आयोजित हुआ है. यहां राज्य के विभिन्न विश्वविद्यालयों से चयनित छात्र छात्राओं को विधायिका, कार्यपालिका और न्यायपालिका के कार्यों को नजदीक से जानने और समझने का मौका मिला है. युवा वर्ग देश को अच्छे उद्देश्यों के साथ आगे बढ़ाएंगे. जो युवा यहां पहुंचे हैं उनमें हुनर है. आप सभी को यहां संविधान से प्रदत्त शक्तियों के तहत विधायी प्रक्रियाओं की जानकारी दी जाएगी. विधानसभा में इस कार्यक्रम के आयोजन का मूल मकसद जागरूक समाज का निर्माण करना है.

झारखंड छात्र संसद-2021

झारखंड विधानसभा अध्यक्ष रबीन्द्र नाथ महतो, मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन एवं संसदीय कार्य मंत्री आलमगीर आलम द्वारा प्रतिभागी छात्र-छात्राओं को बैच लगाकर सम्मानित किया गया. इस अवसर पर मंत्री बन्ना गुप्ता, बादल पत्रलेख, हाफिजुल हसन अंसारी, सत्यानंद भोक्ता, विधायक सरयू राय, मथुरा महतो, स्टीफन मरांडी, इरफान अंसारी, समरीलाल, नलिन सोरेन, श्रीमती दीपिका पांडेय सिंह, श्रीमती ममता देवी, श्रीमती पूर्णिमा नीरज सिंह, श्रीमती सविता महतो, उमाशंकर अकेला, दशरथ गागराई, भूषण बाड़ा सहित अन्य गणमान्य आगंतुक उपस्थित थे.

Leave a Comment