देवघर एयरपोर्ट का नाम बाबा बैद्यनाथ के नाम रखने का आग्रह झारखंड की महान संस्कृति को दर्शाता है

Share on facebook
Share on telegram
Share on twitter
Share on whatsapp
देवघर एयरपोर्ट का नाम बाबा बैद्यनाथ के नाम रखने का आग्रह

मनुवादी विचारधारा भले ही दोतरफा राजनीति का खेल खेले लेकिन, झारखंड की महान संस्कृति अपने मूलभावना से पृथक नहीं हो सकती है. इसका उदाहरण झारखंड के मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने देवघर एयरपोर्ट का नाम बाबा बैद्यनाथ के नाम रखने का आग्रह कर चरितार्थ किया है

अद्भुत है यह महादेवभूमि-बिरसाभूमि झारखंड, जहाँ की संस्कृति सदियों से सतरंगी धनुषों को समेटे अविरल और अमिट खड़ा है. भले ही यहाँ की संस्कृति भले प्रकृति पूजक हो. पर्वत प्रेमी हो, लेकिन यह महान संस्कृति समभाव को जीवंत रूप से जीता है. आदिवासी-मूलवासी, जनजातीय समुदाय में सामाजिक व जनकार्यों को पहली प्राथमिकता मिलती है. शायद आदिवासियों की यही दुर्दमनीय प्रचंड इच्छा शक्ति है जो उन्हें अपनी संस्कृति को हज़ारों सालों से संरक्षित रखने की ताकत देती है. जो लोकतंत्र की मूल भावना को भी दर्शाता है.

मनुवादी विचारधारा भले ही दोतरफा राजनीति का खेल खेले लेकिन, झारखंड की महान संस्कृति अपने मूलभावना से पृथक नहीं हो सकती है. इसका उदाहरण झारखंड के मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने चरितार्थ किया है. जहां उन्होंने सभी धर्मों के प्रति एक समान भाव दिखाते हुए एयरपोर्ट का नाम बाबा बैद्यनाथ के नाम पर रखने का केंद्र से आग्रह किया है. ज्ञात हो देवघर की धरती बाबा नगरी के नाम से जाना जाता है. और वहां श्रद्धालुओं की सुविधा के मद्देनजर एयरपोर्ट बनकर तैयार हुआ है. 

देवघर एयरपोर्ट का नाम बाबा बैद्यनाथ एयरपोर्ट करने का आग्रह कर जन आकांक्षाओं के प्रति दिखाया सम्मान

मुख्यमंत्री चाहते तो इस एयरपोर्ट का नामकरण किसी झारखंडी महापुरुषों के नाम पर रख सकते थे. लेकिन, इस झारखंडी माटी, हेमन्त सोरेन ने केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया को इस सम्बन्ध में पत्र लिख कर देवघर एयरपोर्ट का नाम बाबा बैद्यनाथ धाम (देवघर) करने का आग्रह किया है. सीएम सोरेन ने इस सम्बन्ध में स्पष्ट रूप से कहा है कि बाबा बैद्यनाथ धाम (देवघर) में लगभग 850 करोड़ की लागत से बने एयरपोर्ट में झारखंड सरकार का अंशदान करीब 600 करोड़ रुपया है. चूँकि  देवघर शहर बाबा बैद्यनाथ धाम के नाम से विख्यात है इसलिए देवघर के आमलोगों की मांग है कि देवघर एयरपोर्ट का नाम बाबा बैद्यनाथ के नाम पर ही रखा जाए. 

इस एयरपोर्ट का निर्माण, बाबा के दर्शन के लिए प्रतिवर्ष आने वाले लाखों श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए किया गया है. इसलिए उन्होंने पत्र में लिखा है कि एयरपोर्ट का नाम बाबा बैद्यनाथ के नाम पर करने से इस क्षेत्र में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर धार्मिक पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा. यह एयरपोर्ट राज्य में पर्यटन के विकास में अहम कड़ी साबित होगा. मसलन, जन आकांक्षाओं का सम्मान करते हुए देवघर एयरपोर्ट का नाम बाबा बैद्यनाथ एयरपोर्ट करने पर जल्द निर्णय लें. 

Leave a Replay

DON’T MISS OUT ON NEW POSTS

Don’t worry, we don’t spam. Click button for subscribe.