हम लड़ेंगे साथी झारखंड के लिए अंतिम विकल्प तक : हेमंत सोरेन

हम लड़ेंगे साथी

 हम लड़ेंगे साथी झारखंड के खुशहाली के लिए अंतिम विकल्प तक

झामुमो का बदलाव यात्रा का समापन 19 अक्टूबर, दिन शनिवार 2019 को हरमू मैदान, राँची में बदलाव महारैली के रूप में हुआ। इस कार्यक्रम में अपनी उपस्थिति दर्ज कराने झारखंड के तमाम जिलों से हज़ारों की संख्या में बुद्धिजीवी, आम जन, कर्मचारी वर्ग, सेविका-सहायिका, बेरोज़गार युवा व झामुमो के वरिष्ठ नेता गन, विधायक व कार्यकर्ता पहुंचे। झमाझम बारिश के बीच भी तमाम जनता डटी रही, इस दौरान पूरी राजधानी के सड़कों पर वाहन रेंगती रही। उसी बारिश के बीच झामुमो के नेता प्रतिपक्ष हेमंत सोरेन ने मंच संभाला, साथ दें, साथ चलें, नयी झारखंड के राह चलें नारे के साथ बिलकुल अलग, लें एक बड़ी लकीर खींची।

अपने भाषण के शुरुआत में ही उन्होंने कहा कि झारखंड मुक्ति मोर्चा एक ऐसी पार्टी है जो हमेशा झारखंड के मुसीबतों के वक़्त सीना ताने खड़ा रहती है। जिसकी गवाही हमारी ऐतिहासिक पृष्ठभूमि देती है। हमारे सिपाही झारखंड के आन-बान-शान के लिए शहीद होने से कभी पीछे नहीं हटते। वर्तमान में भी जब सीएनटी/एसपीटी व अन्य क़ानूनों को बचाने की बारी आई, तो हमारे कई विधायकों ने अपने पद की कुर्बानी देकर इस क़ानून को खंडित होने से बचाया और झामुमो के इतिहास में स्वर्णिम अक्षर जोड़े।

सन 2000 में झारखंड अलग तो हुआ लेकिन हमारे महापुरुषों के सपनों, उनके अरमानों वाला झारखंड हमें नहीं मिल पाया है। इसलिए यह जरूरी हो गया है कि अब प्रवासी मुख्यमंत्री से झारखंड छीन अपने राज्य का बागडोर अपने हाथों में लेना अतिआवश्यक हो गया है। इसी दौरान आजसू विधायक विकास सिंह मुंडा का झामुमो व हेमंत सोरेन गर्मजोशी के साथ स्वागत किया। साथ ही खुशहाल झारखंड का कामना करते हुए 51 पक्षियों को पिंजरे से आज़ाद किये और कहा हम लड़ेंगे साथी झारखंड के खुशहाली के लिए अंतिम विकल्प तक।   

जनता से किये गए वायदे निम्नलिखित हैं : ( हम लड़ेंगे साथी …)

  1. हमारी सरकार ऐसा कानून लाएगी जिसके मदद से न केवल हमारी ज़मीन छीनने से बचेगी बल्कि यहाँ के बेघर जनता उच्च न्यायालय में केस कर अपने लिए रहने लायक ज़मीन प्राप्त कर सकेगी। ताकि आगे फिर कभी झारखंडी भावनाओं के साथ खिलवाड़ न हो सके। साथ ही यह भी घोषणा किये कि वे झारखंड के हर प्रमंडल मे एक उप राजधानी बनायेंगे।  
  2. अन्य राज्य की महिलायें नर्स कहलाती है और हमारी राज्य की महिलायें दाई, अब ऐसा नहीं चलेगा, हमारी सरकार राज्य के तमाम महिलाओं को उनका हक 50% आरक्षण देगी। 
  3. देश भर में सबसे अधिक खनिज-सम्पदा का भंडारण हमारी राज्य में हैं, जिससे लगभग पूरा देश जगमगाता है, लेकिन हमारे राज्य में अंधकार हैं हमारी सरकार आते ही यह क़ानून पारित करेगी कि झारखण्ड से जितना खनिज दूसरे राज्य या कंपनियां लेगी, उतनी ही मात्र में बिजली व अन्य संसाधन झारखंड के विकास के लिए उन्हें देना अनिवार्य होगा
  4. हमारी सरकार DVC पर निर्भरता कम करने के लिए वैकल्पिक व्यवस्था करेगी और राज्य के आख़िरी छोर तक बिजली अन्य विकसित राज्यों की भांति 20 घंटों से अधिक गाँवों से लेकर शहर तक पहुंचाएगी साथ ही गाँवों में 200 यूनिट तक बिजली खपत बिलकुल मुफ्त होगा
  5. देश के कई संसाधनरहित राज्य की तरह पर्यटन जैसे वैकल्पिक व्यवस्था कर राज्य की बढ़ती बेरोज़गारी समाप्त करने का काम करेगी। क्योंकि हमारे राज्य को खनिज-सम्पदा के साथ-साथ  नदी, पहाड़ व जंगल-झरने से भी प्रकृति ने हमें नवाजा है।
  6. हमारी सरकार पहले चरण में पाँच लाख युवाओं को नौकरी भी देगी और ग़रीब जनता को 3 लाख का आवास भी, जो अलग-अलग कमरे के साथ किचन व शौचालय से लैस होगी।
  7. हमारे राज्य के  युवाओं में ठेकेदारी करने की क्षमता नहीं है इसलिए वे बाहरी ठेकेदारों के अंदर ट्रेक्टर चलाने जैसे काम करते हैं। हमारी सरकार यह क़ानून बनाएगी जो 25 करोड़ तक का ठेकेदारी केवल झारखंडियों को करने का हक देगा।
  8. आज एक सुनियोजित साज़िश के तौर पर तमाम सरकारी कंपनियों को बंद किया जा रहा है, ताकि दलित, आदिवासी, पिछड़ों का आरक्षण ख़त्म की जा सके। इसलिए हमारी सरकार ऐसा क़ानून लाएगी जो प्राइवेट कंपनियों में भी यहाँ के लोगों को 75% आरक्षण देगा। 
  9. हमारी सरकार न केवल राज्य भर में प्रखंड स्तर पर बड़े अस्पताल खोलेगी बल्कि हर जिले में विभिन्न तकनीकों से लैस वाली विशेष अस्पताल का निर्माण कराएगी, ताकि राज्य के मरीज़ों को गंभीर बीमारियों के लिए अन्य राज्य न जाना पड़े। 
  10. हमारी सरकार राज्य के तमाम वर्गों को उनके अधिकार, एसटी को 28%, ओबीसी को 27%, एससी को 12% आरक्षण लागू कर झारखण्ड के मायने को साकार करूँगा।
  11. हमारी सरकार राज्य भर में किसान बैंक खोलेगी जिसमें हमारे किसान भाई सरकारी तय दामों पर अपनी उगाई वस्तुओं को बेच सकेंगे और अपना जीवन खुशहाल बना पायेंगे।
  12. हमारी सरकार महिलाओं के लिए महिला बैंक राज्य भर में खोलेगी, ताकि वे अपने कुटीर उद्योग को बड़ा आकार दे पायेगी, अपने परिवार का हाथ बटा पायेगी और अपने बच्चों को गुणवत्ता युक्त शिक्षा से लेकर शादी-ब्याह तक आसानी से कर पाने सक्षम होंगी।

Leave a Replay

DON’T MISS OUT ON NEW POSTS

Don’t worry, we don’t spam. Click button for subscribe.