ख़ुद की आई.टी. सेल के प्रोप्गेंडे में फंसती दिख रही है भाजपा 

Share on facebook
Share on telegram
Share on twitter
Share on whatsapp
ख़ुद की आई.टी. सेल के प्रोप्गेंडे में फंसी भाजपा 

भाजपा ने अपने मुताबिक़ चुनावी हवा बनाने के लिए ख़ुद की आई.टी. सेल तैयार कर रखी हैं। कुछ दिनों पहले मध्य प्रदेश भाजपा इकाई के आई.टी. सेल प्रमुख ध्रुव सक्सेना की पाकिस्तानी ख़ुफ़िया एजेंसी -आई.एस.आई. से सम्बन्ध होने की ख़बरें उपर आयी थीं। आई.आई.टी. के लिए यह दल सोशल-मीडिया का इस्तेमाल व्यापक स्तर पर करती रही हैं। विरोधियों के वाक्यांश को इस तरह से काट-छाँट कर पेश करती है, जिससे लोगों के मन में वे नकारात्मक प्रभाव डाल सके। इनके अलावा भी वे कई तरह से इन कामों को अंजाम देते हैं। जैसे कि अभी चंद दिनों पहले झारखण्ड के प्रमुख विपक्ष झामुमो की बदलाव यात्रा व कोणार डैम की ढहने के कारण अपनी गिरती लोकप्रियता और आगामी चुनाव के मद्देनज़र लोगों को भ्रमित करने के लिए नया  शिगुफ़ा छोड़ने का प्रयास हुआ।  

खबर आयी कि झारखण्ड में झारखण्ड मुक्ति मोर्चा के कोल्हान प्रमंडल के 5 विधायक भाजपा के संपर्क में है और भाजपा में शामिल होने वाले है। झारखंड मुक्ति मोर्चा ने अपने उन पाँचों विधायकों को सामने लाते हुए न केवल उस झूठी खबर को सिरे से खारिज किया बल्कि यह दावा भी किया कि भाजपा के सात से ज्यादा विधायक उसके संपर्क में हैं। बदलाव यात्रा के दौरान ही कई बड़े राजनीतिक कदम देखने को मिलेगा। झामुमो ने अवगत कराया कि भाजपा के तमाम आदिवासी-मूलवासी विधायक मौजूदा मुख्यमंत्री की नीतियों से ख़ासा नाराज़ हैं और वे चुनाव से पूर्व कड़े कदम उठा सकते हैं। उनकी झामुमो कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन से कई दौर की बैठकें हो चुकी है। यही वजह है कि अमित शाह ने अपना झारखंड दौरा स्थगित कर दिया। 

बहरहाल, चाईबासा विधायक दीपक बिरूआ ने कहा कि‘हमने भाजपा को हराया है। यही नहीं सिंहभूम में भाजपा लोकसभा चुनाव में भी हारी। मीडिया के माध्यम से भाजपा भ्रम फैलाने की प्रयास कर रही है। यह केवल हमें बदनाम करने की साज़िश है।’ 

चक्रधरपुर विधायक शशिभूषण सामाड का कहना है कि‘हमलोग भला भाजपा में क्यों जाएंगे? जबकि भाजपा झारखंड को खत्म करना चाहती है। कोल्हान में झामुमो की जय-जय है। हम मजबूर नहीं हैं।’ 

जबकि मनोहरपुर विधायक जोबा मांझी ने अपने बयान में कही कि‘कोई विधायक भाजपा के संपर्क में नहीं है। चूँकि कोल्हान में बीजेपी कमजोर है और हमारी मज़बूती वह पचा नहीं पा रही है। हम इस पूरे वाकये से पार्टी अध्यक्ष शिबू सोरेन को अवगत कराएंगे।’

यही वाक्य खरसावां विधायक दशरथ गगराई के हैं -‘कोई विधायक बीजेपी के संपर्क में नहीं है, भाजपा केवल भ्रम फैला रही है। कोल्हान प्रमंडल में भाजपा का कोई भी विधायक जीत नहीं पाएगा।’

यही नहीं मझगांव विधायक निरल पूर्ति ने कहा कि‘हमलोगों पर गलत आरोप लगाया जा रहा है। हमने हर स्तर पर बातें भी रखी है, लेकिन हमारी बातों को महत्व नहीं दिया जा रहा है और हमें बदनाम किया जा रहा है।’ 

मसलन, अब देखना यह है कि भाजपा का यह ख़ुद की आई.टी. सेल का घोड़ा आगे और कितनी ऊँची छलांग लगाता है… 

Leave a Replay

DON’T MISS OUT ON NEW POSTS

Don’t worry, we don’t spam. Click button for subscribe.