बदलाव-यात्रा

“बदलाव-यात्रा” का बिगुल झामुमो ने संथाल से फूका 

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin
Share on telegram
Share on whatsapp

झारखंडी संस्कृतिकी छटा व भारी भीड़ के बीच झामुमो ने “बदलाव-यात्रा” का विगुल, आज 26 अगस्त 2019, साहेबगंज जिले से फूका। इस कार्यक्रम की शुरुआत भोगनाडीह स्थित झारखण्ड के महान विभूति सिद्धू-कान्हू के समाधि स्थल पर माल्यार्पण कर हुआ। लोगों का विशाल हजूम रैली की शक्ल में निर्धारित स्थान “साहेबगंज रेलवे इंस्टिट्यूट मैदान” पहुंची, जहाँ साहेबगंज जिले के तमाम विधानसभा क्षेत्रों से आयी लाखों के भीड़ उपस्थित थी।

झारखण्ड में बदलाव-यात्रा के मायने

बदलाव-यात्रा के कार्यक्रम स्थल पर उपस्थित जनता व मीडिया के माध्यम से राज्य के तमाम जनता को नेता प्रतिपक्ष श्री हेमंत सोरेन ने संम्बोधित करते हुए कई वायदे किये :-

  1. श्री सोरेन ने कहा कि उनकी सरकार आने पर वे यहाँ के शहीदों के सपनों, उनके अरमानों की माँ रखते हुए झारखण्ड का विकास करेंगे। वे इसकी शुरुआत राज्य के अंतिम घर तक साफ़ पानी पहुंचा कर करेंगे। साथ ही हर खेत तक पानी पहुँचाते हुए राज्य सिंचाई व्यवस्था सुदृढ़ करेंगे।
  2. हमारी सरकार में, जिला प्रशासन द्वारा जब घरों को तोड़ने की बात सामने आई थी, तब हमने रातों रात उसपर सुनवाई करते हुए स्टे आर्डर लगावाते हुए उसे रुकवाने का काम किया थाहमारी सरकार को कुछ और वक़्त मिल गया होता तो इसकी परमानेंट उपाय ज़रूर निकाल दिया होता। सरकार आते ही कार्यकाल के पहले छहमाही में ही इसकी समस्या हल कर दूँगा
  3. 25 करोड़ तक की सरकारी निविदा को झारखंडियों तक पहुंचाने का काम करेंगे।
  4. राज्य के ग़रीबों को तमाम प्रकार के सुविधाएँ मुहैया कराने के अलावा उन्हें उनके पक्के  आवास के लिए तीन लाख रुपए देंगे
  5. राज्य के तमाम वर्गों के अधिकार, जैसे- एसटी का 28%, ओबीसी को 27%, एससी का  12% आरक्षण लागू कर झारखण्ड के मायने को साकार करेंगे।
  6. राज्य की महिलाओं का हक 50 % आरक्षण देने के अपने आदेश को पुनः लागू करते हुए, यहाँ की माताओं-बहनों को बराबरी का एहसास करा उनका संरक्षण सुनिश्चित करेंगे।
  7. राज्य के प्रत्येक गाँव में महिला बैंक की स्थापना करेंगे ताकि यहाँ की महिलाएँ आर्थिक रूप सुदृढ़ हो सके।
  8. राज्य के प्रत्येक गाँव में किसान भाईओं के सुविधा का विशेष रूप से प्राथमिकता देते हुए प्रत्येक गाँव में किसान बैंक की भी स्थापना करेंगे।
  9. राज्य के युवाओं की सर्वप्रथम प्राथमिकता सुनिश्चित करने के लिए निजी क्षेत्रों में भी स्थानीय युवाओं को 75% आरक्षण मुहैया करंगे, ताकि यहाँ के युवा भी देश के पटल पर अपना परचम लहरा सके।
  10. पहले साल में ही वे राज्य के पांच लाख स्थानीय युवाओं को नौकरी देंगे और जबतक उन्हें नौकरी मिलती, बेरोज़गारी भत्ता देंगे।
  11. राज्य की जनता के लिए नए सिरे से भूमि अधिकार क़ानून परिभाषित कर यहाँ के हर भूमिहीन को भूखंड मुहैया कराएँगे ताकि यहाँ की विस्थापित गरीब जनता स्थानीय होने से वंचित न हो पाए।
Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin
Share on telegram
Share on whatsapp

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Related Posts