Lockdown: आईसीयू में लगा था ताला, गंभीर बीमार महिला ने गेट के बाहर दम तोड़ा

Share on facebook
Share on telegram
Share on twitter
Share on whatsapp

[ad_1]

Lockdown: आईसीयू में लगा था ताला, गंभीर बीमार महिला ने गेट के बाहर दम तोड़ा

उज्जैन के गार्डी मेडिकल कॉलेज में महिला गंभीर हालत में पहुंची, लेकिन आईसीयू के गेट पर ताला लगा था.

भोपाल:

Coronavirus Lockdown: मेडिकल इमरजेंसी जैसे माहौल में बड़ी चूक सामने आई जब आईसीयू में ताला लटका मिला. इससे शर्मसार करने वाला वाकया और अमानवीयता शायद ही कहीं देखी गई हो, वह भी ऐसे माहौल में. इन हालात में करीब आधा घंटे तक महिला मरीज एम्बुलेंस में ही आखिरी सांसें गिनती रही. आखिरकार कुछ देर बाद ही 55 वर्षीय लक्ष्मी बाई की मौत हो गई. 

कोरोना वायरस (Coronavirus) से लड़ने और उसे हराने के संकल्प को लेकर शासन प्रशासन और देशवासी एक दिखाई दे रहे हैं लेकिन इस बीच उज्जैन के आर गार्डी मेडिकल कॉलेज से जो तस्वीरें सामने आई हैं वे शर्मसार और हैरान कर देने वाली हैं जिसके कारण एक महिला की मौत हो गई. यह मामला उज्जैन का है जहां 55 वर्षीय लक्ष्मी बाई को सांस लेने में तकलीफ और ब्लड प्रेशर बढ़ा होने के कारण पहले परिवार वाले माधव नगर अस्पताल लेकर गए जहां पर महिला को भर्ती कर लिया गया. यहां देर रात में करोना संक्रमण का संदेह होने पर कल सुबह लक्ष्मी बाई को आरडी गार्डी मेडिकल कॉलेज भेज दिया गया. 

मेडिकल कॉलेज में आईसीयू के गेट पर ताला लगा मिला. इधर करीब आधे घंटे तक महिला बिना वेंटिलेटर के एंबुलेंस में ही अपनी आखिरी सांसें गिनती रही और महिला के परिजन आईसीयू खुलने का इंतजार करते रहे. मेडिकल कॉलेज के कर्मचारियों ने बड़ी मशक्कत के बाद आईसीयू का ताला खोला और महिला का इलाज शुरू किया लेकिन इस बीच ही समय पर इलाज नहीं मिलने के करण महिला ने  दम तोड़ दिया. 

इसकी खबर मिलने के बाद उज्जैन के कलेक्टर शशांक मिश्रा ने कार्रवाई करते हुए माधव नगर अस्पताल प्रभारी डॉ महेश परमट और सिविल सर्जन डॉक्टर आरपी परमार को हटा दिया है. वहीं सीएमएचओ अनुसिया गवली ने अस्पताल प्रबंधन पर भी कार्रवाई की बात कही है.

VIDEO : लॉकडाउन का उल्लंघन करने पर मजदूर के माथे पर लिखा 

( उज्जैन से अजय पटवा के इनपुट के साथ)



[ad_2]

Source link

Leave a Replay

DON’T MISS OUT ON NEW POSTS

Don’t worry, we don’t spam. Click button for subscribe.