Breaking News

TimeLine Layout

January, 2020

  • 22 January

    झारखंडी परंपरा व मान्यताओं को भाजपा ने तार-तार कर दिया है

    परंपरा

    ऐतिहासिक तौर पर झारखंड राज्य के अलग-अलग क्षेत्रों में अपनी संस्कृति को लेकर भिन्न-भिन्न मान्यताएं व परंपरा रही है। भाजपा की रघुवर सरकार ने झारखंड में खनिज सम्पदा की लूट की नयी पारम्परा गढ़ यहाँ के तमाम पुरानी परंपरा को सत्ता के ताकत के दम पर छिन-भिन्न कर कर दिया …

    Read More »
  • 21 January

    चैंपियंस ऑफ चेंज अवार्ड किसी मुख्यमंत्री को मिलना जनता के लिए सुखद एहसास

    चैंपियंस ऑफ चेंज

    चैंपियंस ऑफ चेंज अवार्ड गाँधीवादी मूल्यों, सामुदायिक सेवा व सामाजिक विकास भारत में एस्पिरेशनल जिले में को बढ़ावा देने के लिए, केजी बालाकृष्णन पूर्व मुख्य न्यायाधीश और भारत के पूर्व अध्यक्ष एनएचआरसी की अध्यक्षता में संवैधानिक जूरी सदस्यों द्वारा चयनित कर दिए जाने वाला भारतीय पुरस्कार है। जो सरदार वल्लभभाई …

    Read More »
  • 18 January

    जीएसटी की भरपाई केंद्र ने अक्तूबर माह से नहीं किया है

    जीएसटी

    जीएसटी की भरपाई केंद्र ने अक्तूबर माह से नहीं किया है  केंद्र सरकार की वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण फिर दुहराया है कि केंद्र सरकार जीएसटी से होने वाले राजस्व नुकसान की भरपाई करेगी। ज्ञात हो कि केंद्र ने राज्यों से जीएसटी लागू करते वक्त राज्यों से वादा किया था। श्रीमती …

    Read More »
  • 18 January

    आदिवासी दर्शन की जरुरत आज समाज को क्यों?

    आदिवासी दर्शन

    आदिवासी दर्शन की समाज में अहमियत कैसे बांची प्राण… है? यह सवाल आदिवासी समुदाय का देश से है,  विकास की जिस धारा को शहर से गांव पहुंचाने की बात सरकार से लेकर पंचायत तक के नेता करते रहे, उसके अक्स तले आदिवासी केवल अपनी झोपड़ी को बचाने में ही असली …

    Read More »
  • 17 January

    चैंपियन ऑफ चेंज अवार्ड-2019 से सम्मानित होंगे हेमंत सोरेन

    चैंपियन ऑफ चेंज अवार्ड-2019

    चैंपियन ऑफ चेंज अवार्ड-2019 को हेमंत सोरेन ने राज्य की जनता को किया झारखंड के मुख्यमंत्री को ट्विट कर भेजी गयी जानकारी कि रामगढ़ की महिलाएं आज भी नदी में गड्ढा खोद कर पानी निकालती हैं तो पीने और जीने का जुगाड़ हो पाता है। साथ ही इसी प्रकार की जानकारी …

    Read More »
  • 17 January

    असम की एनआरसी सूची मे तकरीबन 13 लाख हिन्दू है!

    असम

    क्या असम में हुए प्रयोग से भी हम कुछ नहीं सीखे ? आज़ाद-भगतसिंह, अशफ़ाक-बिस्मिल के देश ने आज़ादी के बाद बेरोज़गारी, देशी-विदेशी धन्नासेठों की लूट, आसमान छूती महँगाई व रोज़गार जाते पहली बार देखी हैं। आर्थिक मंदी की आड़ में एक तरफ सार्वजनिक उद्यमों को औने-पौने दामों में बेचा जा …

    Read More »
  • 16 January

    झालसा – झारखंड स्टेट लीगल सर्विसेज अथॉरिटी ने बनाया विश्व रिकॉर्ड

    झालसा

    झारखंड न्यायालय के झालसा ने बनाया विश्व रिकॉर्ड नया चेहरा जब हर चेहरे को अपना लगने लगे तो सदन लेकर न्यायालय तक के सुर एक हो ही जाते हैं। हक के सवाल, न्याय की गुहार पर जब मकसद नेक हो तो फिर रास्ता निकालने के लिए व्यवस्था स्वतः 180 डिग्री …

    Read More »
  • 13 January

    देश जलने को है, रुक कर जन गण मन… गाइए, देश बचाइये 

    देश

    सांप्रदायिक सौहार्द बिगड़ने पर सबसे पहले सवाल होता है दोष किसका है? जिसका सीधा जवाब है चंद मुट्ठी भर असामाजिक तत्व। इस खेल में फिल्डिंग, गेंदबाज़ी, बल्लेबाजी व अंपायर सभी भूमिकाओं में केवल वही होते हैं। तो क्या यह महज इत्तेफ़ाक है जहां एक तरफ क्षेत्र के हारे नाकाबिल नेता …

    Read More »
  • 11 January

    ख़ामोशी में कोई आहट न खोजे राजनीतिक तूफ़ान का इंतजार करें

    बाबूलाल

    आप किसी ख़ामोशी में कोई आहट ना खोजिये। सूत्र कहते हैं कि भाजपा बाबूलाल मरांडी जी को पद देकर उनकी पार्टी सहित मिला अपनी डूबते नैया को बचाने भर का यह प्रयास भर हो सकता है। लकीर तो बड़ी लग रही है, लेकिन इसके अक्स तले जो सवाल उभर के …

    Read More »
  • 10 January

    नायक के रूप में उभर रहे हैं मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन

    नायक

    झारखंड के गुज़रे पिछले कुछ साल का इतिहास फ़ासीवाद की आक्रामकता के तौर पर याद किया जाता रहेगा। आम वर्ग की जनता हमेशा ही अपने संघर्षों से नायक पैदा करती है। भाजपा की रघुवर सत्ता ने पिछले पाँच बरस इस प्रदेश के नागरिकों को झुलसाया। परेशान जनता ने सड़कों पर …

    Read More »