Breaking News

Blog Layout

सदर अस्पताल मरीज को बचाने में विफल, तो रिम्स में रात को डॉक्टर नदारद  

सदर अस्पताल

जिले के सदर अस्पताल मरीज को बचाने में विफल, तो राज्य के सबसे बड़े अस्पताल रिम्स में रात को डॉक्टर नदारद, मरीज़ बेहाल !  यहाँ मरीज़ों की भरमार है मगर दवाओं का अकाल है पर्चियाँ लेकर घूमते लोग हैं यह शहर का सरकारी अस्पताल है यहाँ मरीज़ों को मुफ्त इलाज …

Read More »

पहली बारिश ने ही सरकार के स्वच्छ भारत अभियान का असलियत बयान कर दी 

पहली बारिश

झारखंड राज्य कि दशा यह है कि इस राज्य के गरीब जनता को गर्मी में लू के थपेड़े पड़ते हैं, बारिश में नाले का सड़ा हुआ पानी घर में घुसता है और जाड़े में तो जाने कितने अभागों की मौत बस इसलिए हो जाती है कि उनके पास कोई चारा …

Read More »

जेल में मानवता हुई शर्मसार, विषाक्त खाने से मरे 20 कैदी 

जेल

झारखंड के जेल में मानवता हुई शर्मशार, विषाक्त युक्त खाना खाने से 20 कैदी मरे  जेलों में कैदियों के साथ अमानवीय बर्ताव होना अब आम बात हैं। जेल में कैदियों की मौतों की घटनाएँ 54.02 प्रतिशत बढ़ चुकी है। राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग और सरकारी विभाग की रिपोर्ट के अनुसार भी …

Read More »

ज़मीन लूट के मामले रोज उजागर हो रहे हैं झारखंड में 

जंगल की ज़मीन

झारखंड के प्राकृतिक संसाधन पूँजीपतियों को लुटाने की गति तेज़ हुई है। तमाम लोक लुभावन जुमलों और भ्रष्टाचार को किसी भी हालत में बर्दाश्त ना करने के दावा करके सत्ता में आने वाली रघुबर सरकार के शासनकाल में बेशर्मी से भ्रष्टाचार जारी है। अनेक बेशकीमती खनिज पदार्थ, कोयला, नदियाँ, जंगल, …

Read More »

प्लेस ऑफ सेफ्टी का निर्माण वयस्क आरोपी बच्चों के लिए क्यों नहीं हुआ है?

प्लेस ऑफ सेफ्टी (रिमांड होम)

झारखंड के व्यस्क आरोपी बच्चों को प्लेस ऑफ सेफ्टी के जगह रखा जा रहा है रिमांड होम में  जेल और क़ैदी का नाम सुनते ही अमूमन दिमाग़ में क्रूर ख़ूँख़ार व्यक्तियों की तस्वीरें उभरती है।लेकिन ह्यूमन राइट्स लॉ नेटवर्क नामक संस्था के मुताबिक पढ़ा था कि देश के जेलों में …

Read More »

जांच के बिना ही निगम प्रबंधन क्यों रांची के गरीब दुकानदारों को उजाड़ रही है? 

जांच

जांच के बिना ही निगम प्रबंधन ने सुनाये तुगलकी फ़रमान  झारखंड राज्य के नेतृत्व वाली मौजूदा सरकार के कार्यशैली पर नज़र दौड़ायें तो यह साफ़ हो जाता है कि वह यहाँ की समस्याओं की गहराई में जाने के बजाय ग़रीबों को उजाड़ कर समस्याओं का समाधान करन चाहती है। साथ …

Read More »

आधी आबादी पर अत्याचार क्यों नहीं रुक रही है झारखंड में ?

आधी आबादी

झारखंड में मौजूदा सरकार के शासन में आये दिन आधी आबादी पर अत्याचार बढ़ते ही जा रहे हैं। जिसके साक्षी अखबार व टी.वी चैनलों रोज बन रहे हैं। इस राज्य की महिलायें कभी घरेलू हिंसा का शिकार हो रही है, कभी कोई मासूम दहेज़ के लिए बलि चढ़ रही  है। …

Read More »

शिक्षा के क्षेत्र में मौजूदा सरकार की तुलना में हेमंत सरकार कहीं ज्यादा बेहतर 

झारखंड की शिक्षा व्यवस्था

अगर आज झारखंड की शिक्षा व्यवस्था के अंतर्गत यहाँ के सरकारी स्कूलों की स्थिति को परखें तो हम पाते हैं कि इसे व्यवस्थित तरीक़े से ख़त्म करने का काम मौजूदा सरकार द्वारा किया जा रहा है। आज इस राज्य में सरकारी स्कूलों के हालात अच्छे नहीं हैं। वैसे तो देश …

Read More »

स्त्रियों के अधिकार की लड़ाई झारखंड में हमेशा झामुमो ने लड़ी है

स्त्रियों के अधिकार

झारखंड की स्त्रियों की मुक्ति का रास्ता आखिर क्या होगा यह सोचने का मुद्दा है? मौजूदा शासनकाल में शोषण, उत्पीड़न और पितृसत्ता के दमन के विभिन्न रूपों का शिकार सबसे अधिक झारखंड के ही  स्त्रियों को होना पड़ता है। इतिहास बताता है कि इस राज्य की स्त्रियों ने अलग झारखंड …

Read More »

ईवीएम की पवित्रता पर लोकतंत्र को बिकुल चिंतित होना चाहिए 

ईवीएम की पवित्रता

भारत जैसे लोकतंत्र में ईवीएम की पवित्रता पर सवाल  2004 के बाद से भारत में लगभग सभी लोकसभा विधानसभा चुनाव ईवीएम से ही हुए हैं। हालांकि शुरू से ही इसे लेकर विवाद रहा है। शिवसेना, भाजपा, राकांपा, तेदेपा, तृणमूल, जद-एस, सपा, बसपा, माकपा, आप, कांग्रेस सहित लगभग सभी प्रमुख चुनावी …

Read More »