झारखण्ड : सौर ऊर्जा नीति-2022 में निवेशकों के लिए अनुकूल माहौल व सुविधाएँ

झारखण्ड : सौर ऊर्जा नीति 2022 के अंतर्गत उद्योग स्थापित करने वाले सभी निवेशकों को अनुकूल माहौल देने को हेमन्त सरकार प्रतिबद्ध. आम जनता, उद्यमियों सहित सभी वर्ग-समुदाय  को ध्यान में रखकर बनाई गई है यह पॉलिसी. 

रांची : सौर ऊर्जा नीति 2022 के लोकार्पण में मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने कहा कि राज्य में निवेशकों के लिए अनुकूल माहौल तैयार किया गया है. झारखण्ड निवेश के लिए सर्वाधिक अनुकूल राज्य है. सौर ऊर्जा के क्षेत्र में राज्य सरकार के साथ समन्वय स्थापित कर काम करने वाले निवेशकों को सरकार हर स्तर पर सहयोग प्रदान कर रही है. हमारी सरकार निवेशकों का स्वागत करती है.

राज्य सरकार सौर ऊर्जा नीति के अंतर्गत उद्योग स्थापित करने वाले सभी निवेशकों को अनुकूल माहौल मिले इसके लिए प्रतिबद्ध है. मुख्यमंत्री द्वारा अपील की गई कि सभी के सहयोग और सुझाव से नीतियों को और व्यापक तथा सुगम बनाते हुए ही राज्य में भरी मात्रा में ऊर्जा उत्पादन किया जा सकता है.

सौर ऊर्जा उत्पादन को बढ़ावा हेतु निवेशकों के लिए सुविधायें व अनुकूल माहौल

सौर ऊर्जा नीति-2022 – आने वाले 5 सालों के लिए सौर उर्जा नीति का रास्ता तय करने की योजना को मंत्रिपरिषद से पारित किया गया है. यह पॉलिसी आम जनता, उद्यमियों सहित सभी वर्ग-समुदाय के लोगों को ध्यान में रखकर बनाई गई है. राज्य वासियों को नीतिगत निर्णयों का लाभ और सुविधा कैसे मिले इस नीति में प्रावधान किया गया है. नीति में सौर ऊर्जा के उत्पादन को बढ़ावा हेतु निवेशकों को आवश्यक सुविधा एवं अनुकूल माहौल प्रदान करने के प्रावधान हैं. 

राज्य के घरेलू उपभोक्ताओं के लिए सौर ऊर्जा नीति-2022 में विशेष प्रावधान किए गए हैं. 3 लाख रुपए से कम आय वाले परिवारों को शत प्रतिशत सब्सिडी के प्रावधान हैं. जबकि 3 लाख रुपए से अधिक आय वाले परिवारों के लिए लगभग तीन तिहाई सब्सिडी के प्रावधान हैं. साथ ही सौर ऊर्जा नीति को रोज़गार सृजन का एक महत्वपूर्ण साधन बनाया गया है.

Leave a Replay

DON’T MISS OUT ON NEW POSTS

Don’t worry, we don’t spam. Click button for subscribe.