झारखण्ड : सीएम जनता तक पहुँच न केवल समस्या सुनते है त्वरित हल भी निकालते हैं

झारखण्ड : मुख्यमंत्री हमेशा जनता के बीच उपलब्ध रहते हैं, उनकी समस्या सुनते हैं और त्वरीत निदान निकालने का प्रयास करते हैं. तथ्य का जिम्मेदार पहलू – वह व्यस्त कार्यक्रमों के बीच भी समय निकाल जनता से संवाद कायम करते हैं.

दुमका : किसी भी राज्य के मुख्यमंत्री के लोकतान्त्रिक व  संवेदनशीलता को मापने का पैमाना, अंतिम पायदान पर खड़ी जनता तक उनकी सुलभ पहुँच होता है. झारखण्ड के मौजूदा मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन इस पैमाने पर शुरूआती काल से ही खरे उतरते दिखे हैं. मुख्यमंत्री राज्य भर में निरन्तर जनता के बीच उपलब्ध रहते हैं और उनकी पीड़ा व समस्या सुनते हैं, त्वरीत निदान भी निकालने का प्रयास करते दिखते रहे हैं. तथ्य का जिम्मेदार पहलू यह है कि वह व्यस्त कार्यक्रमों के बीच भी समय निकाल जनता से संवाद कायम करते हैं.

सीएम ने जनता की समस्या सुनी – त्वरित समाधान हेतु पदाधिकारियों को दिया निर्देश

तथ्य का एक और प्रत्यक्ष उदाहरण 20 जुलाई 2022 को देखा गया. मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन शाम को दुमका पहुचे. राजभवन में आहूत “जनता संवाद कार्यक्रम” में जनता की समस्याएं सुनी, त्वरित समाधान हेतु संबंधित पदाधिकारियों को निर्देश दिया. जन संवाद कर्यक्रम में भारी संख्या में लोगों ने मुख्यमंत्री से मिलकर अपनी समस्या बतायीं व ज्ञापन सौंपा. सरकार के विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों ने भी मुख्यमंत्री को पुष्पगुच्छ भेंटकर स्वागत किया तथा जनकल्याणकरी योजनाओं के लिए मुख्यमंत्री का धन्यवाद ज्ञापन किया.

कार्यक्रम के दौरान पुरानी पेंशन योजना लागू होने से लाभ प्राप्त करने वाले वर्ग से संबंधित प्रतिनिधिमंडल द्वारा मुख्यमंत्री का आभार जताया गया. मुख्यमंत्री ने नियुक्ति से संबंधित मामलों पर कहा कि सरकार इसके लिए कार्ययोजना बनाकर कार्य कर रही है, राज्य में कई नियुक्तियां हुई है और कई नियुक्तियों को जल्द संपन्न कराने का प्रयास जारी है. कार्यक्रम में विधायक दुमका बसंत सोरेन, विधायक शिकारीपाड़ा नलिन सोरेन, दुमका उपायुक्त रवि शंकर शुक्ल एवं जिला प्रशासन के अन्य पदाधिकारी उपस्थित रहे.

Leave a Replay

DON’T MISS OUT ON NEW POSTS

Don’t worry, we don’t spam. Click button for subscribe.