Breaking News
Home / News (page 4)

News

all types of news.

July, 2019

  • 17 July

    रघुबर-सरकार के तिकड़मो से सावधान रहें, झांसे में ना आयें 

    रघुबर-सरकार

    रघुबर-सरकार के तिकड़मो से सावधान रहें, पहले समस्या को हल्के से उछालते है, फिर मुद्दे को अपने पक्ष में भुना लेती है भाजपा सबसे पहले समस्या को हल्के से उछालते है, फिर अपने एक लाख आई टी सेल से उसके खिलाफ माहौल बनाते है, अन्त में वार कर मुद्दे को …

  • 16 July

    माटी के कई रंग उभारने वाले कुम्हार की झारखण्ड में स्थिति दयनीय 

    माटी को रंग देते कुम्हार

    माटी के रंगों को उभारने वाले कुम्हार की अनदेखी करता भाजपा बात शुरू करते है माटीकला बोर्ड के अध्यक्ष श्रीचंद प्रजापति, महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष राजेन्द्र महतो के मौजूदगी में भाजपा के बेरमो विधायक योगेश्वर महतो ‘बाटुल’ के दुख भरी व्यथा से – “ कुम्हार जाति सिर्फ बंधुआ वोटर नहीं …

  • 16 July

    बीजेपी के लिए ओबीसी का मतलब केवल साहू समाज 

    बीजेपी का ओबीसी केवल साहू समाज

    चुनाव के वक़्त बीजेपी के शीर्ष नेतागण अपने भाषणों में बड़ी निर्लज्जता से खुद को ओबीसी कहने से नहीं चूकते। वोट बटोरने के कवायद में इन्हें पूरे ओबीसी समाज एक जैसा दिखता है, लेकिन सत्तासीन होते ही ओबीसी से इनका सीधा मतलब केवल साहू समाज से रह जाता है। मोदी …

  • 15 July

    आदिवासी मुख्यमंत्री के झारखण्ड में मायने

    आदिवासी मुख्यमंत्री की जरूरत

    झारखण्ड में आदिवासी मुख्यमंत्री की जरूरत आखिर क्यों है? भारतीय समाज में जाति का सवाल सबसे ज्‍वलंत सवालों में से एक है। जनता को छोटे-छोटे टुकड़ों में बांटने का ये एक ऐसा तरीका है जो यहां आने वाले हर शासक को भाया है। चाहे वो मुगल हों या अन्‍य मध्‍यकालीन …

  • 15 July

    साहूकार है हम! साहू जाति के झारखण्ड में होने के मायने

    साहूकार प्रथा

    झारखंड के जाति व्यवस्था की इतिहास पर प्रकाश डालने पर पता चलता है कि, जाति व्यवस्था राज्य की विशिष्ट सामाजिक-आर्थिक और राजनीतिक परिस्थितयों की देन है। प्राचीन इतिहासकार डी.डी. कोसाम्बी, आर.एस. शर्मा, रोमिला थापर, सुवीरा जायसवाल आदि की जाति व्यवस्था सम्बन्धित व्याख्याओं और मान्यताओं को पढने से पता चलता है …

  • 13 July

    रुपए लेते झारखंड के स्वास्थ्य मंत्री का वीडियो हुआ वायरल 

    रुपए

    झारखण्ड में भाजपा मंत्री का रुपए लेन-देन का खुला खेल  नैतिकता, शुद्धता, प्राचीन भारतीय सभ्यता, सदाचार, हिन्दू संस्कृति वगैरह की दुहाई कर बहुमत से सत्ता में आने वाली भाजपा के नेताओं की आखिरकार झारखण्ड में कलई खुल गयी है। अब सत्ता के  कार्यकाल के अंतिम दौर में भी ये भ्रष्टाचार, …

  • 12 July

    आदिवासी प्रतीकों की प्रतिमाएं आखिर क्यों तोड़ी जा रही हैं?

    आदिवासी प्रतीकों

    आदिवासी प्रतीकों …राजू मुर्मू की कलम से … झारखंड विरोधी तत्वों ने रांची, कोकर में स्थित झारखंडी व आदिवासी प्रतीकों के प्रतीक धरती आबा बिरसा मुंडा की स्थापित प्रतिमा को क्षतिग्रस्त कर सीधे तौर पर झारखंडी समाज पर हमला व अपमान किया है। रांची महाविद्यालय का नाम बदलकर पंडित दीनदयाल …

  • 12 July

    आवेदन रद्द, छटनी, रिजल्ट न निकालने वाली सरकार क्या 25 हजार नौकरी दे सकती है

    आवेदन

    क्या आवेदन रद्द व छटनीकरने वाली, रिजल्ट न निकालवा पाने वाली सरकार का 25 हजार नौकरी देने का वायदा करना, जुमले वाजी से कम है? बढ़ती बेरोज़गारी के मामले में ब्लूमबर्ग की एक रिपोर्ट की माने तो भारत में बेरोज़गारी दर 8.0 प्रतिशत पार कर गयी है जो एशिया में …

  • 12 July

    यौन उत्पीड़न मामले में पुलिस या सफेदपोश का नाम आने से जांच क्यों हो जाती है धीमी 

    महिला यौन उत्पीड़न

    झारखण्ड के जमशेदपुर में जनवरी 2019 से जुलाई तक के महिला यौन उत्पीड़न के आंकड़े बताते हैं कि, इस जिले में हर पांचवें दिन एक नाबालिग को हवस का शिकार बनाया जाता है। इस वर्ष महज 181 दिनों के अंतराल में 32 नाबालिग बेटियों को दरिंदों ने अपना शिकार बनाया। …

  • 11 July

    बेटियों से बीमारी स्कूल छीन रही है और सरकार जीत का ब्लूप्रिंट बनाने में व्यस्त 

    आदिवासी बेटियों से स्कूल छीन लिए बीमारी ने

    बीमारी ने आदिवासी बेटियों से उनके स्कूल छीन लिए! झारखण्ड के गुमला जिले की एक आदिवासी परिवार की कहानी सरेआम सरकार की आयुष्मान योजना व शिक्षा के प्रति उनकी संजीदगी की पोल खोल दी है। वैसे भी हर रोज की सुर्खियाँ सरकर के स्वास्थ्य व्यवस्था की सच्चाई वयक्त करती रहती …