Breaking News
Home / News (page 23)

News

all types of news.

November, 2018

  • 16 November

    कुड्मी समुदाय के जीवंत मुद्दों के साथ खड़ा रहने वाला झामुमो इकलौता दल

    झारखंड के कुड्मी समुदाय

    कुड्मी समुदाय के मुद्दों के साथ झामुमो हमेशा खड़ा रहा है  कथायें कहती हैं कि रावण अपने दस मुँहों से बोलता था परन्तु हर जुबां से एक ही बात कहता था। मगर भाजपा सरकार और उसके अनुषंगी दलों के अनेक मुँह हैं और सभी से अलग-अलग बातें एक साथ बाहर …

  • 15 November

    युवा झारखंड स्थापना दिवस के मौके पर सरकार की ख़ैर-ख़बर

    युवा झारखंड स्थापना दिवस और सरकार

    युवा झारखंड स्थापना दिवस पर झारखंड सरकार की स्थिति राघुबर सरकार अपना कार्यकाल पूरा करने से पहले ही युवा झारखंड स्थापना दिवस समारोह के पूर्व ही पूरी तरह हाफ़ने लगी है। वह भी तब, जबकि सारी जांच एजेंसियाँ इनकी जेब में हैं और इक्की-दुक्की छोड़ सम्पूर्ण मीडिया जगत भी इनकी …

  • 15 November

    गुरुजी गरीबों के पहरुआ हैं, आपकी तरह पंडिताई नहीं करते  

    गुरुजी 

    गुरुजी जैसा गरीबों का पहरुआ होना अलग बात है, पंडिताई  करना और बात  हमारे देश में लोकतंत्र और ब्राह्मणवाद का तंत्र साथ-साथ कतई नहीं चल सकता। लोकतंत्र मनुष्यता की राह पकड़ता है तो मनुवाद मनुष्यता में विच्छेदन की। एक, समाज जोड़ता है तो दूसरा तोड़ता है। आपस में दोनों एक-दूसरे के …

  • 14 November

    रघुबर सरकार की एक और ओछी हरकत, राज्यपाल की गरिमा को फिर से किया धूमिल

     रघुबर सरकार की एक और ओछी हरकत:

     रघुबर सरकार की एक और ओछी हरकत: झारखंड में भाजपा की रघुबर सरकार की ओछी हरकतें इनका श्रृंगार बन चुका है। इनकी अमर्यादित क्रियाकलापों की पुनरावृत्ति इनकी मानसिकता के निम्नतम स्तर को प्रमाणित करती है। इसका ताज़ातरीन उदहारण रघुबर सरकार द्वारा 15 नवम्बर को आयोजित किए जाने वाले झारखंड स्थापना …

  • 10 November

    जल संकट से जूझता पलामू , दिव्यान्गता और मौत के बाद भी सरकार तमाशबीन

    पलामू जल संकट पर सरकार तमाशबीन

    पलामू जल संकट पर सरकार तमाशबीन भाजपा के सत्ता के चार साल पूरे होने के बावजूद अब तक पलामू जल संकट से जूझ रहा है। यहाँ जल संकट की समस्या विकराल हो चुकी है। न सिर्फ शहरी क्षेत्रों में बल्कि ग्रामीण अंचलों का भी यही हाल है। वर्तमान में यहाँ …

  • 10 November

    नीलाम्बर-पीताम्बर जैसे आदिवासी अस्मिता के प्रतीक की उपेक्षा क्यों?

    पलामू क्षेत्र के स्वतंत्रता संग्राम सिपाही नीलाम्बर-पीताम्बर जिन्होंने कर्नल डाल्टन जैसे दमनकारी अंग्रेज को छके छुड़ाए, उनके गाँव की उपेक्षा क्यों?

    पलामू क्षेत्र के स्वतंत्रता संग्राम सिपाही नीलाम्बर-पीताम्बर जिन्होंने कर्नल डाल्टन जैसे दमनकारी अंग्रेज को छके छुड़ाए, अंत में झारखंड कि आन बचाने को शहीद हुए, उनकी उपेक्षा क्यों? पलामू झारखण्ड के पूर्वोत्तर भाग में स्थित भारत के ऐतिहासिक स्थानों में से एक है। सन 1857 ई. के स्वतंत्रता संग्राम के दौरान यह जिला इस प्रदेश का सर्वाधिक …

  • 9 November

    मुख्यमंत्री की कुर्सी को लेकर रघुबर दास और अर्जुन मुंडा के बीच दंगल

    मुख्यमंत्री की कुर्सी को लेकर रघुबर और मुंडा के बीच दंगल

    मुख्यमंत्री की कुर्सी के लिए दंगल:  आगामी 2019 की चुनावी सरगर्मी तेज होते ही झारखंड के राजनीतिक गलियारों से ये खबर उड़ रही है कि अर्जुन मुंडा ने खुद को भाजपा से अगले मुख्यमंत्री के चेहरे के लिए प्रस्तावित कर दिया है। फलस्वरूप भाजपा अप्रत्यक्ष रूप से दो गुटों में बंट दंगल …

  • 9 November

    आदिवासी भाजपा के नजरों में जमींदार और कॉर्पोरेट जगत नवगरीब

    आदिवासी

    रघुवर सरकार आदिवासी को जमींदार और कॉर्पोरेट जगत को गरीब एवं भूमिहीन मानती है  देश में नयी आर्थिक नीतियों के लागू होते ही कल्याणकारी राज्य की अवधारणा का अर्थ किस प्रकार परिवर्तित हुआ इसका जीवंत मिसाल झारखंड के रूप में देखा जा सकता है। यहाँ के लोक शब्दों में बयाँ करें …

  • 8 November

    झारखंड की प्रकृति और संस्कृति को ताक पर रखती सरकार

    झारखंड की प्रकृति और संस्कृति को ताक पर रखती सरकार

    झारखंड की प्रकृति और संस्कृति की उपेक्षा झारखंड प्रकृति की गोद में बसा वह प्रदेश है, मानो प्रकृति ने इसे अपने सान्निध्य से संवारा हो। इस जनजाति बाहुल्य राज्‍य के प्रत्येक क्षेत्र में  प्रकृति और संस्‍कृति का जबरदस्त समागम है। संस्कृति और रहन-सहन में विविधता रहने के बावजूद भी यहाँ …

  • 8 November

    आदिवासी क्या हिन्दू हैं और सरना धर्म जैसा कोई धर्म नहीं ?

    क्या सरना धर्मवाली ही आदिवासी हैं

    भाजपा एवं उसके अनुषांगी दल के ऐसे कई उदाहरण हैं जिस आधार पर कहा जा सकता है कि ये  देश की राजनीति में हमेशा दोहरा खेल खेलते हैं। जैसे झारखंड में हिन्दू-मुसलमान, जाति-पाति, 11 बनाम 13 जिले, बाहरी-भीतरी और अब आदिवासी भाई में फूट डलवाने या गुमराह करने के लिए …