Breaking News
Home / News / Jharkhand (page 3)

Jharkhand

only jharkhand states news

July, 2019

  • 26 July

    नेता प्रतिपक्ष के सवालों पर सदन में बिफरता सत्ता पक्ष 

    नेता प्रतिपक्ष

    सदन में नेता प्रतिपक्ष के सवालों पर बिफरते हुए सत्ता पक्ष की व्यक्तिगत टिप्पणी चूँकि झारखण्ड सरकार चुनावी मोड में है इसलिए आशा के अनुरूप विधानसभा का मॉनसून सत्र हो-हंगामे के भेंट चढ़ गया। एक तरफ विधान सभा सत्र चल रहे हैं तो दूसरी तरफ राज्य के तमाम संगठन बारिश …

  • 26 July

    नए रोज़गार तो दूर झारखण्ड में कार्यरत कर्मियों की छटनी हो रही है 

    नए रोज़गार

    झारखण्ड में नए रोज़गार तो दूर कार्य कर्मियों को हटाया जा रहा है  राष्ट्रीय सांख्यिकी आयोग के चेयरमैन समेत दो सदस्यों ने इस वर्ष जनवरी में इस्तीफ़ा दे दिया, क्योंकि राष्ट्रीय नमूना सर्वेक्षण (एनएसएसओ/NSSO) के आवर्ती श्रम शक्ति (PERIODIC LABOUR FORCE) सर्वेक्षण को आयोग द्वारा मंज़ूरी दिये जाने के बावजूद …

  • 23 July

    ईंट-भट्ठों में ग़ुलामों की जिन्दगी जीने को मजबूर हैं झारखण्ड-बिहार के मज़दूर

    ईंट-भट्ठों

    झारखण्ड-बिहार के लोग हरियाणा के ईंट-भट्ठों में बंधुआ मजदूर बँधुआ मज़दूरी कहने को तो देश से समाप्त हो चुका है, लेकिन देश के कई हिस्सों में अब भी ईंट-भट्ठों, धनी किसानों के खेत व कारख़ानों में झारखण्ड-बिहार के हज़ारों लोग महज पेट की आग बुझाने के लिए बंधुआ मजदूरी करने …

  • 20 July

    नगर विकास मंत्री ने राज्य की राजधानी को नर्क बना दिया है : हेमंत सोरेन 

    नगर विकास मंत्री ने राँची को नरक बना दिया

    नगर विकास मंत्री पूरी तरह विफल  नेता प्रतिपक्ष हेमंत सोरेन का कहना है कि नगर विकास मंत्री ने राज्य की राजधानी की स्थिति नर्क सरीखे बना दिया है। श्री सोरेन का कहना है कि उन्होंने हरमू नदी के विकास के लिए 80 करोड़ दिये थे, हरमू नदी को नाले में …

  • 20 July

    मुफ्त गैस का लालच दे भाजपा ने आम चुनाव में वोट लिए, फिर भूल गए 

    मुफ्त गैस कनेक्शन

    भाजपा ने लोकसभा चुनावी रैलियों में प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना को एक बड़ी सफलता के रूप में पेश किया था। जब कि हकीक़त में इस योजना के तहत मुफ्त गैस कनेक्शन पाने वाले अधिकतर ग्रामीण परिवार चूल्हे पर भोजन पकाने को मजबूर थे। अध्ययन से पता चला था कि पैसे की …

  • 19 July

    गोल घूमता लोकतंत्र… ! महज 70 बरस में

    गोल गोल घूमता लोकतंत्र

    गोल गोल घूमता लोकतंत्र… 1947, देश आजाद हुआ था। नयी नवेली सरकार, प्रधानमंत्री नेहरू और गृहमंत्री सरदार पटेल देशी रियासतों को आज़ाद व एक भारत का हिस्सा बनाने के लिए जद्दोजहद कर रहे थे। तकरीबन 562 रियासतों को साम दाम दंड भेद की नीति से एक भारत बनाने के प्रयास …

  • 19 July

    भूख से मौत इक्कीसवीं सदी में होना सरकार की नाकामी : पंकज प्रजापति

    भूख से मौत

    चतरा, कान्हाचट्टी के डोडेगड़ा गांव में झींगुर भुइयाँ की भी मौत भूख से हों गयी थी। झारखण्ड मुक्ति मोर्चा के जिला अध्यक्ष पंकज कुमार प्रजापति ने वहाँ का दौरा किया और मृतक की पत्नी को खाद्य सामग्री उपलब्ध कराया। दौरे के दौरान घटनास्थल से प्राप्त जानकारियों में पाया कि मृतक …

  • 17 July

    रघुबर-सरकार के तिकड़मो से सावधान रहें, झांसे में ना आयें 

    रघुबर-सरकार

    रघुबर-सरकार के तिकड़मो से सावधान रहें, पहले समस्या को हल्के से उछालते है, फिर मुद्दे को अपने पक्ष में भुना लेती है भाजपा सबसे पहले समस्या को हल्के से उछालते है, फिर अपने एक लाख आई टी सेल से उसके खिलाफ माहौल बनाते है, अन्त में वार कर मुद्दे को …

  • 16 July

    माटी के कई रंग उभारने वाले कुम्हार की झारखण्ड में स्थिति दयनीय 

    माटी को रंग देते कुम्हार

    माटी के रंगों को उभारने वाले कुम्हार की अनदेखी करता भाजपा बात शुरू करते है माटीकला बोर्ड के अध्यक्ष श्रीचंद प्रजापति, महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष राजेन्द्र महतो के मौजूदगी में भाजपा के बेरमो विधायक योगेश्वर महतो ‘बाटुल’ के दुख भरी व्यथा से – “ कुम्हार जाति सिर्फ बंधुआ वोटर नहीं …

  • 16 July

    बीजेपी के लिए ओबीसी का मतलब केवल साहू समाज 

    बीजेपी का ओबीसी केवल साहू समाज

    चुनाव के वक़्त बीजेपी के शीर्ष नेतागण अपने भाषणों में बड़ी निर्लज्जता से खुद को ओबीसी कहने से नहीं चूकते। वोट बटोरने के कवायद में इन्हें पूरे ओबीसी समाज एक जैसा दिखता है, लेकिन सत्तासीन होते ही ओबीसी से इनका सीधा मतलब केवल साहू समाज से रह जाता है। मोदी …