Breaking News
Home / News / Editorial (page 3)

Editorial

samadiya

November, 2018

  • 23 November

    कोलेबिरा उपचुनाव : कोलेबिरा की जनता को भ्रष्टाचार, अपराध से आजादी मिलेगी !

    कोलेबिरा उपचुनाव एनोस एक्का की लालच का साबुत

    विधायक एनोस एक्का के आजीवन कारावास होने के बाद से खाली पड़ी कोलेबिरा सीट पर, संवैधानिक बाध्यता के मद्देनजर निर्वाचन आयोग ने उपचुनाव की  तिथि 20 दिसंबर एवं मतगणना तिथि 23 दिसंबर मुकर्रर की है। साथ ही इसकी अधिसूचन 26 नवंबर तक जारी होगी। ज्ञात हो कि झारखण्ड में लोहरदगा, पांकी, …

  • 20 November

    शिक्षक कभी गुंडा नहीं हो सकता है, रघुबर दास जितनी जल्दी समझ लें अच्छा होगा

    ‘शिक्षक कभी गुंडा नहीं हो सकता है’

    रघुबर दास जितनी जल्दी समझ लें कि शिक्षक कभी गुंडा नहीं हो सकता है स्वर्गीय श्री अटल बिहारी बाजपेयी जी ने प्रधानमंत्री रहते हुए सर्व शिक्षा अभियान शुरू किया था। इसी के अंतर्गत पारा शिक्षकों की बहाली की गयी थी। नियुक्ति के समय ही सरकार द्वारा ये आश्वासन दिया गया था …

  • 9 November

    आदिवासी भाजपा के नजरों में जमींदार और कॉर्पोरेट जगत नवगरीब

    आदिवासी

    रघुवर सरकार आदिवासी को जमींदार और कॉर्पोरेट जगत को गरीब एवं भूमिहीन मानती है  देश में नयी आर्थिक नीतियों के लागू होते ही कल्याणकारी राज्य की अवधारणा का अर्थ किस प्रकार परिवर्तित हुआ इसका जीवंत मिसाल झारखंड के रूप में देखा जा सकता है। यहाँ के लोक शब्दों में बयाँ करें …

  • 8 November

    आदिवासी क्या हिन्दू हैं और सरना धर्म जैसा कोई धर्म नहीं ?

    क्या सरना धर्मवाली ही आदिवासी हैं

    भाजपा एवं उसके अनुषांगी दल के ऐसे कई उदाहरण हैं जिस आधार पर कहा जा सकता है कि ये  देश की राजनीति में हमेशा दोहरा खेल खेलते हैं। जैसे झारखंड में हिन्दू-मुसलमान, जाति-पाति, 11 बनाम 13 जिले, बाहरी-भीतरी और अब आदिवासी भाई में फूट डलवाने या गुमराह करने के लिए …

October, 2018

  • 26 October

    झारखंडी बेरोजगार युवा में नौकरी पाने की योग्यता नहीं है : मुख्यमंत्री रघुवर दास

     झारखंडी बेरोजगार युवाओं की योग्यता पर सवाल उठा रहे हैं प्रदेश के मुख्यमंत्री रघुवर दास

     झारखंडी बेरोजगार युवाओं की योग्यता पर सवाल उठा रहे हैं प्रदेश के मुख्यमंत्री रघुवर दास मोदी जी के साथ-साथ झारखण्ड के मुख्यमंत्री रघुवर दास जी ने बेरोज़गारी से लड़ने के नाम पर स्किल इण्डिया, स्टार्टअप इण्डिया, वोकेशनल ट्रेनिग जैसी तमाम योजनाओं के विज्ञापन पर जमकर पैसा लुटाया। साथ ही खुद मियां-मिट्ठू …

  • 25 October

    झारखंड स्थानीय नीति : परिभाषित स्थानीय नीति के तहत मूल खतियानधारी वंचित

    परिभाषित झारखंड स्थानीय नीति के तहत मूल खतियानधारी वंचित क्यों ?

    परिभाषित झारखंड स्थानीय नीति के तहत मूल खतियानधारी वंचित क्यों ? –पीसी महतो की कलम से… झारखंड में भाजपा + आजसू पार्टी द्वारा बनायी गयी झारखंड स्थानीय नीति को समझने के लिए एक सूची संलग्न है। जल संसाधन विभाग द्वारा वर्ष 2016 में नियुक्त किए गए कनीय अभियंता (जूनियर इंजीनियर) …

  • 24 October

    बकोरिया काण्ड ( फर्जी मुठभेड़ ) : रघुबर सरकार की चुप्पी का जवाब है उच्च न्याययालय का आदेश

    बकोरिया काण्ड ( फर्जी मुठभेड़ ) : रघुबर सरकार की चुप्पी का जवाब माननीय उच्च नयायालय ने सीबीआई को जांच सोंपा

    झारखंड में क़ानून व्यवस्था की हालात कितनी संगीन है, इसका अनुमान केवल इस तथ्य से लगाया जा सकता है कि चर्चित बकोरिया काण्ड ( फर्जी मुठभेड़ ) की जांच सीबीआई से कराने का फैसल झारखंड उच्च नयायालय को लेना पड़ता है। झारखंड प्रदेश में नक्सलवाद को खत्म करने के नाम …

  • 20 October

    राष्ट्रीय दल ( भाजपा- कांग्रेस ) आखिर क्षेत्रीय दल की गरिमा क्यों भूल जाते हैं

    क्या राष्ट्रीय दल कांग्रेस ने ही सर्व प्रथम सीएनटी/एसपीटी एक्ट एवं विल्केंसन रूल्स पर हमला शुरू किया 

    क्या राष्ट्रीय दल कांग्रेस ने ही सर्व प्रथम सीएनटी/एसपीटी एक्ट एवं विल्केंसन रूल्स पर हमला शुरू किया  झारखंड के केनवास पर गठबंधन पर मचे भूचाल के बीच कांग्रेस का राष्ट्रीय दल होने का दंभ को देखकर यह आसानी से अंदाजा लगाया जा सकता है कि देश की दोनो पूंजीवादी एवं मनुवादी विचारधरा से लैस …

  • 15 October

    नीमहकीम बिरादरी दलों पर झामुमो-बसपा की गठबंधन भारी दिखती हुई

    नीमहकीम बिरादरी दलों पर झामुमो-बसपा की गठबंधन भारी

    नीमहकीम दलों को दरकिनार कर झामुमो–बसपा गठबंधन नयी इबारत लिखने को तैयार सभी नीमहकीम संज्ञा से परिचित होंगे, यह बिरादरी रोग के लक्षणों (symptoms) को ही मर्ज समझ बैठते हैं या फिर एकाध लक्षणों को टटोलकर मर्ज की जड़ तक पहुँचने का दावा करते फिरते हैं। जबकि वैज्ञानिक दृष्टिकोणीय डॉक्टर मर्ज के …

  • 13 October

    कुरमी बहुल क्षेत्र (सिल्ली ) में भी आखिर सुदेश महतो क्यों हारते हैं !

    कुरमी बहुल क्षेत्र

    सुदेश की कुरमी बहुल क्षेत्र सिल्ली उपचुनाव में हार उनकी दोहरी नीति के कारण हुई  –पीसी महतो (चक्रधरपुर) की कलम से झारखण्ड में हुए इस वर्ष सिल्ली उपचुनाव में सुदेश महतो की हार के कई मायने हैं। इन दिनों सुदेश महतो की आजसू (पार्टी) झारखंड में भाजपा सरकार की सहयोगी दल …