सिमडेगा : अंतर्राष्ट्रीय एएस्ट्रोटर्फ हाॅकी स्टेडियम – मुख्यमंत्री ने सिमडेगा से किया वादा निभाया 

Share on facebook
Share on telegram
Share on twitter
Share on whatsapp
अंतर्राष्ट्रीय एएस्ट्रोटर्फ हाॅकी स्टेडियम

मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने झारखण्ड हॉकी खिलाड़ियों से किया वादा निभाया. सिमडेगा में अंतर्राष्ट्रीय एस्ट्रोटर्फ हाॅकी स्टेडियम का शिलान्यास हॉकी को देगा नया आयाम…

सिमडेगा : भाजपा की पूर्व सत्ता में, झारखण्ड में जब राष्ट्रीय स्तर तक की सियासत ने अपनी राजनीतिक विकल्प खो दी थी. राज्य में युवाओं का भविष्य घोर अंधकारमय हो चला था. उस घने अंधेरे में झारखण्ड को बदलाव की एक अदद सूरत तक नहीं दिखाई पड़ रही थी. तो झारखण्ड के जख्मों से उस मवाद को निकालने का जिम्मा तत्कालीन झामुमो कार्यकारी अध्यक्ष, हेमन्त सोरेन आगे बढ़कर उठाने की ठानी. और “झारखण्ड संघर्ष यात्रा” महज नाम भर नहीं रहा. उस यात्रा के मद्देनजर हेमन्त सोरेन ने पूरे राज्य का भ्रमण किया. झारखंडियों की वेदना को उनके करीब पहुँच महसूस किया और उन्हें ढांढस बंधाया कि जीत उनकी होगी. 

ज्ञात हो, वह सिमडेगा भी पहुंचे. सलीमा टेटे से भेंट की. उन्होंने खिलाड़ियों से वादा किया कि यदि वे मुख्यमंत्री बने तो झारखण्ड में सिमडेगा वह पहला जिला होगा, जहाँ अंतर्राष्ट्रीय स्तर का हॉकी स्टेडियम का निर्माण होगा. जिसकी मौजूदगी सिमडेगा समेत तमाम झारखण्ड के हॉकी खिलाड़ियों के सपनों को उड़ान देगी. शपथ ग्रहण के उपरान्त, कोरोना काल में बतौर मुख्यमंत्री में यह कसमसाहट साफ़ दिखी. कई मौकों पर उस कसमसाहट की अभिव्यक्ति भी दिखी. लेकिन, जैसे-जैसे राज्य संक्रमण काल से उबर रहा है, झारखण्ड नयी करवट ले रही है. आज, 20 अक्टूबर 2021, वह शुभ दिन है जब मुख्यमंत्री सिमडेगा में अंतर्राष्ट्रीय एएस्ट्रोटर्फ हाॅकी स्टेडियम का शिलान्यास करेंगे.

ई खेल नीति राज्य में खेल संस्कृति को विकसित करने का रखता है माद्दा 

ज्ञात हो, कोरोना संक्रमण के दौर से एक तरफ मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन कुशलता से राज्य को बाहर निकाल रहे थे, तो वहीं दूसरी तरफ राज्य में विकास का रोडमेप भी तैयार कर रहे थे. इसी दौरान उनकी सरकार ने खेल नीति पर कार्य प्रारंभ किया. नयी उद्योग नीति, पर्यटन नीति पर न केवल कार्य प्रारंभ हुआ बल्कि तमाम नीतियों का खेल नीति के साथ जुड़ाव भी बनया. हेमन्त सरकार राज्य को खेल क्षेत्र में एक बड़ा हब बनाने की दिशा में बढ़ रही है. खेलों के बढ़ावा के मद्देनजर नई खेल नीति का मसौदा राज्य में खेल संस्कृति को विकसित करने का माद्दा रखता है. 

हेमन्त सरकार की खेल योजना प्रतिभाओं की पहचान, प्रशिक्षण व जरूरी सुविधाओं प्रदान करेगी. ग्रामीण क्षेत्रों तक में खेल के मैदान गति से तैयार हो रहे हैं. खेल संघों के साथ खेल प्रतियोगिताओं के आयोजन को अमलीजामा पहनाया जा रहा है. राज्य में खेलों के विकास के लिए आधारभूत संरचनाओं को विकसित करने पर जोर दिया गया है. राज्य भर में खिलाड़ियों के प्रशिक्षण और प्रोत्साहन के लिए भी काम किए जा रहे हैं. जो निश्चित रूप से झारखण्ड को न केवल देश में, विश्व में भी खेल-शक्ति के रूप में पहचान देगा.

अंतर्राष्ट्रीय एएस्ट्रोटर्फ हाॅकी स्टेडियम खेल के क्षेत्र में हॉकी को देगा नया आयाम

सिमडेगा में अंतर्राष्ट्रीय एएस्ट्रोटर्फ हाॅकी स्टेडियम का शिलान्यास खेल के क्षेत्र में हॉकी को नया आयाम देगा. मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन झारखंड में खेल और खिलाड़ियों के समक्ष अंतर्राष्ट्रीय एएस्ट्रोटर्फ हाॅकी स्टेडियम रूप में विकल्प पेश किया है. जो न केवल हॉकी को बल्कि हॉकी के खिलाड़ियों को संसाधन मुहैया करेगा, उन्हें दुर्दशा से भी बहार निकाले में मील का पत्थर साबित होगा. यह उपलब्धि और क्षमता के अनुसार राज्य के सभी खिलाड़ियों की मैपिंग करेगा और उन्हें तराश कर देश को हॉकी में सशक्त बनायेगा. जिससे देश का पुराना गौरव अपने परवान को पा सकेगा.

Leave a Replay

DON’T MISS OUT ON NEW POSTS

Don’t worry, we don’t spam. Click button for subscribe.