झारखण्ड : आपके द्वार शिविर तक पहुँचने में असमर्थ दिव्यांगजनों के घरों तक पहुंचा प्रशासन

असमर्थ दिव्यांगजनों के घरों तक पहुंचा प्रशासन
  • जामताड़ा के दो पहाड़िया असमर्थ दिव्यांगजनों युवक को सिर्फ 45 मिनट में दिया गया जाति प्रमाणपत्र
  •  रामगढ़ में फूलो-झानो आशीर्वाद अभियान के तहत स्वरोजगार के लिए मिला ऋण

रांची : राज्य के सभी जिलों में आपके अधिकार, आपकी सरकार, आपके द्वार कार्यक्रम के तहत जन कल्याणकारी योजनाओं का लाभ जनता तक पहुंचाया जा रहा है. सभी जिलों के विभिन्न पंचायतों में शिविर आयोजित हो रहे हैं. शिविरों में जनता को सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं से जोड़कर तत्काल राहत पहुंचाई जा रही है. हजारीबाग के दो दिव्यांगजनों के घर जाकर सरकार की योजना के तहत लाभ पहुंचाया गया. जामताड़ा के पहाड़िया य़ुवक का जाति प्रमाण पत्र अविलंब बना कर दिया गया. इसी तरह रामगढ़ की हड़िया-दारू बेचने वाली महिलाओं को स्वरोजगार के लिए ऋण उपलब्ध कराया गया.

दो पहाड़िया असमर्थ दिव्यांगजनों के घर पहुंच ट्राईसाईकिल और दिव्यांगता प्रमाणपत्र किया गया प्रदान

हजारीबाग के कटकमदाग प्रखण्ड के मसरातू निवासी दीपक कुमार रजक (39 वर्ष) और विनोद ठाकुर (44 वर्ष) दिव्यांग हैं और चलने-फिरने में असमर्थ हैं. साधन उपलब्ध नहीं होने के कारण वे शिविर तक नहीं पहुंच सके. जानकारी मिलने पर उपायुक्त के निर्देश पर कटकमदाग प्रखंड विकास पदाधिकारी के साथ प्रशासन की टीम दोनों व्यक्तियों के घर पहुंची. दोनों के पास दिव्यांगता प्रमाणपत्र भी नहीं था, इससे उन्हें सरकारी योजनाओं का लाभ भी नहीं मिल पा रहा था. प्रशासन की ओर से दोनों दिव्यांगजनों को ट्राईसाईकिल प्रदान किया गया. साथ ही उन्हें दिव्यांगता प्रमाणपत्र भी दिया गया और ठंढ से बचने के लिए उन्हें कंबल भी प्रदान किया गया.

लाभुक दीपक कुमार रजक और विनोद ठाकुर कहते हैं, “उन्होंनें कल्पना भी नहीं की थी कि उनकी समस्याओं का समाधान इतनी जल्दी और आसानी से हो जायेगा. दोनों ने आपके अधिकार, आपकी सरकार, आपके द्वार कार्यक्रम की सराहना की है. साथ ही, मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन को इस तरह की जनकल्याणकारी अभियान के संचालन के लिए धन्यवाद दिया.

सिर्फ 45 मिनट में मिला जाति प्रमाणपत्र

जामताड़ा जिला के करमाटांड़ प्रखंड स्थित जेरूवा ग्राम निवासी शोभि पहाड़िया स्नातक के छात्र हैं. वे पिछले 5 सालों से जाति प्रमाणपत्र बनवाने के लिए प्रखण्ड कार्यालय का चक्कर लगा रहे थे. डुमरिया पंचायत भवन में आयोजित आपके अधिकार, आपकी सरकार, आपके द्वार कार्यक्रम में वे भी फरियाद लेकर पहुंचे. उनकी समस्या सुनकर प्रखंड विकास पदाधिकारी ने इसकी जानकारी अंचल अधिकारी को दी. अविलंब कागजी कार्रवाई करते हुए सिर्फ 45 मिनट में ही शोभि पहाड़िया को जाति प्रमाणपत्र निर्गत कर दिया गया. शोभि ने कहा कि जिसके लिए वह लंबे समय से परेशान थे, आपके अधिकार, आपके द्वार- आपकी सरकार कार्यक्रम में वह काम तुरंत हो गया.

रामगढ़ की महिलाओं को फूलो-झानो आशीर्वाद अभियान से जोड़ा गया

रामगढ़ जिला के मांडू प्रखंड के लियो उत्तरी पंचायत में लगाये शिविर में तीन महिलाओं हेमंती देवी, भादो देवी एवं मुनिया देवी को फूलो झानो आशीर्वाद अभियान से जोड़ा गया. पूर्व में तीनो ही महिलाएं जीवनयापन के लिए मजबूरी में हड़िया बेचने को विवश थीं. शिविर में तीनों महिलाओं को फूलो-झानो आशीर्वाद अभियान से जोड़ते हुए स्वरोजगार के लिए 10,000-10,000 रुपये का ऋण उपलब्ध कराया गया. तीनों महिलाएं अब खुश हैं क्योंकि वे अब सम्मानजनक रोजगार से जुड़ सकेंगी.         

अभी तक 5,80,000 से भी अधिक आवेदन हो चुके हैं प्राप्त

ज्ञात हो, 29 नवंबर 2021, दिन के 03:00 बजे तक राज्य के विभिन्न जिलों के पंचायतों में आयोजित शिविरों में कुल 5,80,000 से भी अधिक आवेदन जमा हुए हैं. जिनमें 2,75,000 से अधिक मामलों का निष्पादन करते हुए लोगों को विभिन्न योजनाओं के तहत लाभ पहुंचाया जा चूका है. इसके अलावा लगभग 3,00,200 मामलों के निष्पादन प्रक्रिया जारी है.

Leave a Replay

DON’T MISS OUT ON NEW POSTS

Don’t worry, we don’t spam. Click button for subscribe.