Breaking News
Home / News / Jharkhand / सोशल मीडिया फेसबुक पर झामुमो की युवा आक्रोश मार्च की धूम 
सोशल मीडिया फेसबुक

सोशल मीडिया फेसबुक पर झामुमो की युवा आक्रोश मार्च की धूम 

Spread the love

झामुमो की युवा आक्रोश मार्च की सोशल मीडिया फेसबुक में हलचल

“बहुत ही सराहनीय कदम, हेमंत जी आपके तरफ से जो लोग आपके रैली में नहीं पहुंच पाए हैं वह भी आप ही के समर्थक हैं। हम सब मिलकर के इस बार आप को मुख्यमंत्री बनाएँगे। आपसे इतना ही विनती है कि जनता के प्रति हमेशा सजग और जागरूक रहिए”। -सन्नू यादव 

आपके द्वारा किए जा रहे घोषणा को मैं हमेशा देखता-पढ़ता और समझता हूं, मुझे आप में भरोसा है आप जो घोषणा कर रहे है अगर झामुमो की सरकार आती है तो ज़रुर आपके द्वारा किया गया घोषणा धरातल पर उतरेगी मुझे ये उम्मीद है। लेकिन और भी सोशल मीडिया के बंधुओं का पोस्ट मैं पढ़ता हूं जो कहते हैं हेमंत सोरेन आज कल बहुत सारे वादे कर रहे है मगर कभी खातियान का जिक्र नहीं करते, क्या मैं जान सकता हूं आप खतियान का जिक्र क्यों नहीं करते। -अभिमन्यु पॉल 

यह वाक्य झारखंड ख़बर के नहीं बल्कि सोशल मीडिया फेसबुक में झारखंडी युवाओं की झामुमो के युवा आक्रोश मार्च के पोस्टों की हलचल है, उनके बोल हैं। हाँ वही युवा जिनको को परिभाषित करते हुए लिखा जाता है – युवा मतलब क्रांति, युवा मतलब नयी ऊर्जा, युवा मतलब बदलाव, युवा मतलब संघर्ष, युवा मतलब नयी उड़ान है। युवा शक्ति किसी भी समाज का आईना होता है, समाज के विकास एवं भविष्य का नियंता होता है। आज झारखंड के युवकों कि स्थिति वाकई बदहाल है। राज्य के सरकारी नियोजनालयों में लगभग 4 लाख पंजीकृत बेरोज़गार नयी सुबह का इंतजार कर रहे हैं, लेकिन मौजूदा सरकार में केवल उन्हें हताशा ही हाथ लग रही है। ये उनका रघुवर सरकार को जवाब है। 

पढ़ें लिंक में … 

 #युवा_आक्रोश_मार्च के दौरान हेमंत सोरेन का सभा को संबोधित किया।

जो युवा साथी आज किसी भी कारण आक्रोश मार्च में शामिल नहीं हो सकें, उनके लिए हमारे घोषणापत्र के कुछ अंश:

पूरे झारखण्ड में युवा आक्रोश मार्च को मिले अपार समर्थन के लिए धन्यवाद।

Check Also

हरिवंश टाना भगत

हरिवंश टाना भगत की प्रतिमा को उखाड़ फेका गया है

Spread the loveरघुबर सरकार को न जाने क्यों झारखंडी महापुरुषों खुन्नस है, पहले भगवान बिरसा …

कर्माओं व धर्माओं

कर्माओं व धर्माओ जंगलों से निकाल फैंकने की स्थिति में क्या प्रकृति बचेगी?

Spread the loveकर्माओं व धर्माओ को झारखण्ड के जंगलों से निकाल फैंकने पर क्या प्रकृति …

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.