Breaking News
Home / News / Jharkhand / बेरोजगार झारखंडी युवा हेमत सोरेन का स्वागत क्यों कर रहे हैं?
बेरोजगार झारखंडी युवा

बेरोजगार झारखंडी युवा हेमत सोरेन का स्वागत क्यों कर रहे हैं?

Spread the love

बेरोजगार झारखंडी युवा हेमंत सोरेन के बयान खुश हैं 

बेरोजगार झारखंडी युवाओं ने इस दफा जात-पात की गन्दी राजनीति का पर्दाफाश करते हुए राज्य की रघुबर सरकार को बेरोजगारी के मुद्दे पर चारों से घेरती नजर आ रही है। आज प्रदेश के बेरोजगार झारखंडी युवा का मानना है कि जाति-धर्म की बेड़ियों को तोड़ते हुए यदि आज शिक्षा और रोज़गार की अलख नहीं जगायी गयी तो हमें आने वाली पीढ़ी कभी माफ़ करने की स्थिति में नहीं होगी। युवाओं का कहना है कि शिक्षा व  रोजगार हमारी बुनियादी हक हैं और हम इसे हर कीमत पर लेकर रहेगें।

ज्ञात हो कि प्रदेश में रघुबर के कार्यकाल में बेरोज़गारी का संकट बढ़ता ही चला गया है। यहाँ के युवाओं ने रघुबर सरकार से तमाम तरह की गुहार लगाए, लेकिन भैंस के आगे बीन बजाना ही साबित हुआ जो नाममात्र की सरकारी नौकरियाँ निकली वह भी बाहरियों की भेट चढ़ गयी। यहाँ के युवाओं को कहा गया कि वे अयोग्य हैं। राज्य में लाखों पद ख़ाली पड़े रहने के बावजूद भर्तियों को लटकाकर रखा जाता रहा है स्थिति यह रही है कि भर्तियों की परीक्षाएँ उत्तीर्ण करने बाद भी उम्मीदवारों को नियुक्तियाँ नहीं दी गयी या विलंब किया गया!

इन परिस्थितियों के बीच झारखंडी युवाओं ने बाक़ायदा वीडियो जारी कर नेता प्रतिपक्ष हेमंत सोरेन के बयान “ झामुमो की सरकार बनते ही प्रदेश के सभी युवाओं को अविलंब नौकरी दी जायेगी ओर यदि विलंब हुई तो हर बेरोज़गार को बेरोज़गारी भत्ता दिया जायेगा” का स्वागत करती दिख रही है साथ ही वे उन्हें धन्यवाद देते हुए कह रहे हैं कि नेता प्रतिपक्ष हम बेरोजगार झारखंडी युवा के बारे में सोच रहे हैं इससे अच्छी बात हम बेरोजगार युवाओं के लिए और क्या हो सकती है नये रोज़गार सृजित करने का हेमंत सोरेन का वायदा युवाओं को भा रहा है, जिससे आगामी विधानसभा चुनाव ने दिलचस्प मोड़ ले लिया है। खुद को अजय मान रही रघुबर सरकार के पेशानी पर झामुमो ने यकायक पसीने ला दिए हैं

Check Also

हरिवंश टाना भगत

हरिवंश टाना भगत की प्रतिमा को उखाड़ फेका गया है

Spread the loveरघुबर सरकार को न जाने क्यों झारखंडी महापुरुषों खुन्नस है, पहले भगवान बिरसा …

कर्माओं व धर्माओं

कर्माओं व धर्माओ जंगलों से निकाल फैंकने की स्थिति में क्या प्रकृति बचेगी?

Spread the loveकर्माओं व धर्माओ को झारखण्ड के जंगलों से निकाल फैंकने पर क्या प्रकृति …

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.