टीएनएन डॉट वर्ल्ड ने खुलाशा किया नोटबंदी सीधे पीएमओ से संचालित  

Share on facebook
Share on telegram
Share on twitter
Share on whatsapp
नोटबंदी

नोटबंदी सीधे पीएमओ से संचालित  

टीएनएन डॉट वर्ल्ड वेबसाइट की “सुनामी ऑफ स्टिंग्स मोदी बीजेपी अनमास्क्ड” नाम से जारी स्टिंग के जरिये एक बार फिर यह साबित हुआ कि नोटबंदी देश का सबसे बड़ा घोटाला था। इस स्टिंग के माध्यम में बताया गया है कि कैसे नोटबंदी के वक़्त बड़े पूंजीपति व सत्ता तक पहुंच रखने वाले लोगों ने कालेधन को सफेद करने का काम किया। राहुल राथरेकर ऐसे शख्स है जिसकी पृष्ठभूमि देश की खुफिया एजेंसी रॉ से जुड़ी है, उसके पास ऐसा आईडी कार्ड है जिसका एक्सेस कैबिनेट से लेकर सेक्रेटरिएट तक है और नोटों को बदलने का यह गोरख धंधा सीधे पीएमओ से संचालित था। पीएमओ ने इसके लिए बाकयदा निपुण शरण (बदला हुआ नाम) के नीचे 26 लड़के-लड़कियों की टीम गठित कर एक विंग बनाया गया था। जिसका नियंत्रण सीधे अमित शाह के हाथ में था।, जिसे आरबीआई के विभिन्न केंद्रों पर तैनात किया गया था। फील्ड में अगर किसी पुलिस या फिर दूसरी जांच एजेंसियां इससे जुड़ी गांड़ियों या गतिविधियों को चेक करने के प्रयास करते तो सीधे ऊपर से उन्हें ऐसा न करने का आदेश मिल जाता था।

वेबसाइट ने राहुल के हवाले से यह भी खुलासा किया है कि 1-1 लाख करोड़ रुपये की नकली नोटों का पहली तीन श्रृंखला, जिसे बाहर से छपवाकर और बाकायदा एयरफोर्स के ट्रांसपोर्ट प्लेन से हिंडन एयरपोर्ट पर उतारा गया था। करेंसी बदलने का पहला ट्रांजैक्शन रेट 15 फीसदी था बाद में उसे बढ़ाकर 35-40 फीसदी कर दिया गया। जिसकी  वसूली करेंसी को बदलने के दौरान ही कर ली जाती थी। राहुल यह भी खुलासा करता है कि पूर्व गवर्नर उर्जित पटेल के हस्ताक्षर वाली करेंसी को नवंबर से छह महीने पहले ही प्रिंट कर लिया गया था। और चुनिंदा राजनेताओं और बड़े बिजनेस हाउसेज के नोट बदलने का काम उसी समय शुरू भी कर दिया गया था। इसमे एक शख्स बाकायदा बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के बेटे जय शाह व नितिन पटेल का नाम लेते हुए दिखाया गया है।
खबर का लिंक नीचे दिया जा रहा है:
https://tnn.world/tsunami-of-stings-modi-bjp-unmasked-compilation/

Leave a Replay

DON’T MISS OUT ON NEW POSTS

Don’t worry, we don’t spam. Click button for subscribe.